रुढ़िवाद के खिलाफ मुहिम बना बुंदेलखंड के ललितपुर में स्वयं फेस्टिवल

रुढ़िवाद के खिलाफ मुहिम बना बुंदेलखंड के ललितपुर में स्वयं फेस्टिवलदिल्ली से क़रीब 400 किमी दक्षिण में ललितपुर के सिंधवाहा गाँव में स्वयं फ़ेस्टिवल के दौरान जब महिला सशक्तिकरण के मुद्दे पर चर्चा की गयी तो महिलाओं ने बिना झिझके माहवारी जैसे मुद्दों पर ना सिर्फ़ खुलकर अपनी शिकायतें सामने रखी बल्कि पीछे बैठे गाँव के पुरुषों को भेदभाव के ख़िलाफ़ ललकारा भी, इन सुदूर गाँवों में घूँघट के अंदर ही एक शांत बदलाव शुरू हो चुका है।

यूपी के सबसे बड़े ग्रामीण उत्सव ‘स्वयं फेस्टिवल’ के तहत आयोजित ‘बर्ड वॉचिंग फेस्टिवल’ में स्कूली बच्चों ने भाग लिया। गाँव कनेक्शन फाउंडेशन व ललितपुर वन विभाग के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित ‘बर्ड वॉचिंग फेस्टिवल’ में ज़िलाधिकारी डॉ रूपेश कुमार ने भी शिरकत की।
ललितपुर में कुल 14 विशालकाय बांध हैं जहां प्रवासी पक्षियों का जमावड़ा होता है। इन बांधों में प्रमुख गोविंद सागर, शहज़ाद, जामनी, राजघाट और माताटीला बांध पर बर्ड वॉचिंग फेस्टिवल का आयोजन किया गया।
ललितपुर के पहेलवाल ग्राउंड महिला महाविद्यालय की छात्राओं को यूपी पुलिस की तमाम योजनाओं के बारे में जानकारी दी गई।
ललितपुर के पहेलवाल ग्राउंड महिला महाविद्यालय की छात्राओं को पेटीएम की जरूरत और उसके इस्तेमाल की दी गई जानकारी।
ललितपुर के सिधवाहा में स्वयं फेस्टिवल के तहत आयोजित की गई जनसभा।
हेल्थ कैम्प लगाकर लोगों का किया गया मुफ्त इलाज।
हेल्थ कैम्प में अपना इलाज करवाने आये ग्रामीण।
ललितपुर में पाली के सामुदायिक स्वस्थ्य केन्द्र पर आयोजित किया गया रक्तदान कैम्प।
ललितपुर के मेहरौनी तहसील के भैरा गाँव में स्वयं फेसिटिवल के तहत आयोजित किया गया हेल्थ कैम्प, लोगों का किया गया मुफ्त इलाज, बांटी दवाइयां।
ललितपुर के तालबेहेट तहसील के सभागार में आयोजित की गई किसान गोष्ठी।
ललितपुर की मेहरौनी तहसील के दिगवार गाँव में आयोजित की गई किसान गोष्ठी।
ललितपुर की मेहरौनी तहसील के समोगर गाँव में में लगाया गया पशु हेल्थ कैम्प।
ललितपुर की मेहरौनी तहसील के समोगर गाँव में में लगाया गया पशु हेल्थ कैम्प।
ललितपुर की मेहरौनी तहसील के महारानी लक्षमीबाई यूएम विद्यालय में छात्र-छात्राओं को 1090, डायल 100 और हेल्थ से जुड़ी जानकारियां दी गईं।
नगरपालिका बालिका इंटर कॉलेज ललितपुर में छात्राओं ने प्रस्तुत किया बुंदेलखंडी लोकगीत।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top