आचार संहिता के चलते होली की गुझिया इस बार रहेगी फीकी

Swati ShuklaSwati Shukla   11 March 2017 2:36 PM GMT

आचार संहिता के चलते होली की गुझिया इस बार रहेगी फीकीराशन की दुकानों पर चीनी तो पहुंच गई लेकिन आचार संहिता की वजह से उसे बांटने के निर्देश नहीं मिल पाए।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

लखनऊ। होली को देखते हुए शासन ने गरीब कार्डधारकों को अतिरिक्त चीनी देने के निर्देश दिए थे। राशन की दुकानों पर चीनी तो पहुंच गई लेकिन आचार संहिता की वजह से उसे बांटने के निर्देश नहीं मिल पाए। इस कारण से गरीबों को होली के बाद ही अतिरिक्त चीनी मिल पाएगी।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

जिला मुख्यालय से 5 किलोमीटर दूर सीतापुर रोड पर स्थित राशन की दुकान पर चीनी लेने के लिए लंबी लाइन लगी थी लेकिन उन्हें खाली हाथ वापस आना पड़ा। गाँव कनेक्शन संवाददाता ने जब कोटेदार आशीष जायसवाल से बात की तो उन्होंने बताया, “चीनी हम लोगों को समय पर मिल गई थी, हमारे गोदाम पर है लेकिन अभी तक चीनी बांटने का आदेश नहीं हुआ है। इस वजह से चीनी हम नहीं बांट रहे हैं। जब आदेश होगा तब हम चीनी बांटना शुरू करेंगे।”

राजधानी में लगभग सरकारी राशन की दुकानें हैं। हाल ही में निर्देश जारी हुए थे कि पात्र गृहस्थी को 200 ग्राम चीनी और अंत्योदय कार्ड धारकों को 500 ग्राम चीनी दी जानी थी। जिला मुख्यालय से 14 किलोमीटर दूर लोनी कटरा की रहने वाली तारा तिवारी (45 वर्ष) बताती है, “चीनी लेने के लिए मैं दो बार यहां पर आ चुकी हूं लेकिन यहां के लोग चीनी नहीं दे रहे हैं। जबकि सरकार ने कहा था कि इस होली पर अधिक चीनी मिल जाएगी लेकिन यह कोटेदार हमें चीनी नहीं दे रहे है।”

चीनी बांटने से आचार संहिता से कोई लेना देना नहीं है। आदेश हुआ था कि होली तक सभी को राशन वितरित कर दिया जाए।
बाल कृष्ण त्रिपाठी, विशेष सचिव, खाद्य एवं रसद विभाग

चीनी कोटेदारों को समय पर भेज दी गई थी लेकिन अभी आचार संहिता की वजह से वितरण नहीं हो रहा है। होली के बाद चीनी बांट दी जाएगी।
संतोष शाही, जिला पूर्ति अधिकारी

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम की पात्रता सूची के अनुसार पात्र गृहस्थी के कार्ड धारकों की संख्या तीन करोड़ से अधिक है जिसमें लाभार्थी की संख्या करीब सवा 13 करोड़ है। अन्त्योदय कार्ड धारकों की संख्या 40,94,731 है और लाभार्थीं की संख्या 1,62,94,548 है। जिला पूर्ति अधिकारी संतोष शाही ने बताया, “चीनी कोटेदारों को समय पर भेज दी गई थी लेकिन अभी आचार संहिता की वजह से वितरण नहीं हो रहा है। होली के बाद चीनी बांट दी जाएगी। खाद्य एवं रसद विभाग के विशेष सचिव बाल कृष्ण त्रिपाठी बताते हैं, “चीनी बांटने से आचार संहिता से कोई लेना देना नहीं है। राशन बांटना कोटेदार का काम है। आदेश हुआ था कि होली तक सभी को राशन वितरित कर दिया जाए।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Share it
Top