#स्वयंफेस्टिवल : गोण्डा के इन बच्चों की सीखने की ललक को सलाम

Manish MishraManish Mishra   30 Dec 2016 5:18 PM GMT

#स्वयंफेस्टिवल : गोण्डा के इन बच्चों की सीखने की ललक को सलामगोण्डा के कृषक बालिका इंटर कालेज में यूपी पुलिस के सत्र में भाग लेते बच्चे।

स्वयं डेस्क/हरी नारायण शुक्ला (46 वर्ष)

स्वयं फेस्टिवल : चौथा दिन। स्थान : गोण्डा का कृषक बालिका इंटर कालेज

सर्द सुबह, ऊपर से घना कोहरा। घर से निकलने की हिम्मत नहीं हो रही थी पर कुछ सीखने की ललक लिए ये बालिकाएं समय से पहले ही स्कूल पहुंच गईं। मौका था स्वयं उत्सव के बैनर तले महिला सशक्तीकरण पर अपनी बात रखने का।

बालिकाओं को 1090 की विशेषताओं के बारे में बताते पुलिस अधिकारी।

इस सत्र में एसओ धनीपुर रामशंकर यादव ने बताया कि 1090 वुमेन पावर लाइन कैसे महिलाओं को उत्पीड़न से बचा रही है। कोई अगर उन्हें परेशान करेगा तो पुलिस उनकी मदद करेगी। कभी भी किसी भी प्रकार के उत्पीड़न की समस्या खड़ी हो आप तुरंत 1090 पर डायल करें। पुलिस आपकी मदद करेगी। इसमें उनकी पहचान भी गुप्त रखी जाएगी।

यूपी 100 के सत्र में छात्राओं ने भी खूब सवाल किए।

यूपी 100 के सत्र में यूपी पुलिस के प्रतिनिधियों ने बताया कि यह एक आपातकालीन सेवा है। इसे अमेरिका की 911 आपातकालीन सेवा की तर्ज पर शुरू किया गया है। यूपी यह सेवा शुरू करने वाला देश का पहला राज्य है जिसे संपूर्ण प्रदेश में एकसाथ लांच किया गया। इसकी सबसे बड़ी खासियत जब भी कोई व्यक्ति इस नंबर पर सूचना देता है तो पुलिस 15 मिनट के भीतर घटनास्थल पर पहुंचती है।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top