डीएम ने दो शिक्षकों को भेजा जेल 

डीएम ने दो शिक्षकों को भेजा जेल आकस्मिक निरीक्षण करके दो शिक्षकों को जेल भेजा गया।

शाश्वत पांडेय, स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

शाहजहांपुर। डीएम कर्ण सिंह चौहान और पुलिस अधीक्षक केबी सिंह ने गायत्री प्रसाद इण्टर कालेज रौसर कोठी का आकस्मिक निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने नकल कराने वाले दो शिक्षकों को जेल भेजा।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

भावलखेड़ा ब्लाक के रौसर कोठी में गायत्री प्रसाद इण्टर कालेज के गेट के अन्दर प्रवेश करते ही कालेज की अध्यापिका अरुणा गुप्ता प्रबन्धक के कमरे से बाहर निकल कर परीक्षा कक्षों में भागने लगीं। इस पर जिलाधिकारी ने उनसे जानकारी की तो उन्होंने बताया कि मैं अध्यापिका हूं। जिलाधिकारी अध्यापिका से केन्द्र व्यवस्थापक की जानकारी कर रहे थे इस दौरान कालेज के अध्यापक सत्यपाल प्रबन्धक के कमरे से बाहर आये।

जिलाधिकारी ने सत्यपाल से जानकारी करते हुए पाया कि अध्यापक सत्यपाल अंग्रेजी विषय के ही अध्यापक हैं।” जिलाधिकारी ने पुलिस अधीक्षक के साथ मैनेजर के कमरे को देखा तो यहां मेज पर एक हाईस्कूल अंग्रेजी का प्रश्नपत्र व एक शीट साल्व की गई रखी थी। अध्यापक सत्यपाल और अध्यापिका अरुणा गुप्ता को हिरासत में लेते हुये तुरन्त दोनों आरोपियों के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश देते हुए जेल भेज दिया।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top