मधुमक्खी पालन के दौरान अगर कोई कीट लग जाए तो ऐसे करें इसका उपाय

मधुमक्खी पालन के दौरान अगर कोई कीट लग जाए तो ऐसे करें इसका उपायफोटो: गाँव कनेक्शन।

मौनगृह में पनपने वाले शत्रु मुख्य रूप से मोमी पतंगा, माइट, बीटल और मधुमक्खी जूं मुख्य हैं। इसके लिए कुछ उपाय निम्नलिखित हैं-

  • सर्दी के बाद जैसे ही गर्मी शुरू हो सभी मौनगृहों को खोलकर धूप लगाएं और तलपटों को पूरी तरह साफ़ कर दें।
  • मोमी पतंगों से ग्रसित छत्तों को 60 डिग्री सेल्सियस तापमान वाले पानी में 4-5 घंटे तक रखने से सुरंगों में पल रहे इस कीड़े की झल्लियां मर जाती हैं।
  • निष्क्रिय मौसम में किसी कारणवश यदि मधुमक्खियों की संख्या कम हो जाए तो छत्तों की संख्या कम कर दें ताकि प्रत्येक छत्ता मधुमक्खियों से ढका रहे।
  • कीड़े लगे छत्तों को इथाइलिन डाईब्रोमाइड और कार्बन टेट्रा-क्लोराइड मिश्रण का छिड़काव करें।
  • प्रभावित छत्तों को आधा घंटे तक धूप में रखें। धूप से पतंगों की इल्लियां बाहर निकल आती हैं। छत्तों को छाया में ठंडाकर पेटिका के अन्दर रख दें, इस प्रकार प्रत्येक छत्ते को इल्ली रहित कर दें।

ओपिनियन पीस: डॉ. अनंत राम प्रभारी वरिष्ठ वैज्ञानिक, कृषि विज्ञान केंद्र (औरैया)

ये भी पढ़ें- एक डिब्बे से शुरू किया था मधुमक्खी पालन आज हज़ारों किसानों को सिखाते हैं इसके गुर

ये भी पढ़ें- मधुमक्खी पालन शुरू करना चाहते हैं तो ये जानकारी आपके पास जरूर होनी चाहिए

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Share it
Top