राजकीय जिला पुस्तकालय में शुरू हुआ ई-ग्रंथालय

राजकीय जिला पुस्तकालय में शुरू हुआ ई-ग्रंथालयराजकीय जिला पुस्तकालय में शुरू हुआ ई-ग्रंथालय। 

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

प्रतापगढ़। एक समय था जब कोई भी जानकारी लेनी हो तो किताब का सहारा लेना पड़ता था, लेकिन अब एक क्लिक पर हजारों किताबें स्क्रीन पर आ जाएंगी। जिला मुख्यालय में स्थित राजकीय जिला पुस्तकालय में कागजों से निकल कर किताबें अब स्क्रीन में समाहित हो गयीं हैं। अब तो पुस्तकालय में भी साहित्य स्क्रीन पर अंगुली रखते ही सामने नजर आने जा रहा है। राजकीय जिला पुस्तकालय में ई-ग्रंथालय की स्थापना की गई है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

राजकीय पुस्तकालय के पुस्तकालयाध्यक्ष श्याममूर्ति शुक्ल बताते हैं, “राजकीय पुस्तकालय को शुरू हुए बीस वर्ष से भी अधिक समय हो गया है और यह जिले का सबसे बड़ा पुस्तकालय है, जिसमें शहर भर के लोग पढ़ने आते हैं। पिछले कुछ वर्षों से यहां पर अव्यवस्थाएं थीं, इसके लिए हम ने जिला स्तर पर लिखकर भी दिया था, जिलाधिकारी के प्रयास का से राजकीय जिला पुस्तकालय सुदृढ़ अवस्था में आ सका है और प्रदेश के आदर्श जिला पुस्तकालयों में शामिल हो गया है।”

  • किताबें, कई भाषा के अखबारों के साथ ही नौकरियों की भी मिलती है जानकारी
  • नहीं लिया जाता कोई चार्ज, सिस्टम पर एक टच से मिलती हैं सूचनाएं

राजकीय जिला पुस्तकालय अब डिजिटल लाइब्रेरी में तब्दील हो गया है। यहां पर लगी क्योस्टा स्क्रीन टच मशीन पर ई-ग्रंथालय सुविधा शुरू हो गई है। इसके जरिए सूरदास के भजन से लेकर अंतरिक्ष में लगी देश की छलांग तक देखी, पढ़ी व समझी जा सकती है। साथ ही नौकरियों वैकंसी भी देख सकते हैं। एटीएम मशीन की तरह दिखने वाले इस सिस्टम पर एक टच से सारी जानकारी मिल जाएगी। श्याम मूर्ति शुक्ल आगे बताते हैं, “यह सुविधा पुस्तकालय के सदस्य के साथ ही जनसामान्य को भी मिल रही है, इसके लिए कोई चार्ज भी नहीं लगता है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top