दबंगों ने जेसीबी लगाकर पाटा तालाब  

दबंगों ने जेसीबी लगाकर पाटा तालाब  ग्रामीणों के विरोध के बाद दबंग ने तालाब पर किया कब्जा।

अरुण मिश्रा (कम्यूनिटी जर्नलिस्ट)

विशुनपुर (बाराबंकी)। बाराबंकी जिला मुख्यालय से 20 किमी दूर देवा ब्लॉक के ढर्रेपुर मजरे सालेहनगर के निवासी उमेश चंद्र पुत्र देवतादीन द्वारा 18 अक्टूबर को तहसील दिवस में तालाब पर दबंगों द्वारा अवैध कब्जे से सम्बंधित प्रार्थना पत्र देकर शिकायत की गई लेकिन एक महीने बाद भी प्रशासन की तरफ से इस विषय में कोई कार्रवाई नहीं की गई। इससे फरियादी न्याय के लिए दर-दर भटकने के लिये मजबूर है।

देवा ब्लॉक के ढर्रेपुर मजरे सालेहनगर में गांव के बीचों-बीच एक तालाब है जिसका गाटा संख्या 1519 रकबा 2605 एयर व 1521 रकबा 714 एयर भू अभिलेखों पर दर्ज है। पूरे गाँव के बरसात का पानी इसी में जमा होकर नाले के द्वारा नदी को चला जाता है लेकिन दबंगों द्वारा तालाब को पाट देने से गाँव में बरसात का पानी निकासी न पाने मुसीबत का सबब बन जाता है। इससे बरसात के समय अनेक बीमारियों के पनपने का भी भय रहता है। इसी गाँव के निवासी उमेश चंद्र द्वारा तहसील दिवस में एक लिखित प्रार्थना पत्र देकर शिकायत की गई कि उक्त भूमि पर गाँव के रामपाल व हीरालाल ने अवैध रूप से जेसीबी लगाकर तालाब पाट लिया है तथा उक्त भूमि पर यूकेलिप्टस के पेड़ लगाकर कब्ज़ा कर लिया गया है। इसके अलावा तालाब को पाटकर उसी भूमि पर छप्पर, नादें, नल व पालेसर लगाकर भूमि पर अवैध कब्ज़ा कर रखा है। ग्रामीणों ने जब रामपाल से ऐसा न करने के लिए कहा तो रामपाल अपनी दबंगई दिखाते हुए मारपीट पर भी उतारू हो गया। इस संबंध में ग्रामीणों ने तहसील दिवस में प्रार्थना पत्र देकर तालाब से अबैध कब्जे को हटवाने की मांग प्रशासन से की है। इस बारे में उपजिलाधिकारी सदर सुनील पाल ने कहा, "तालाब पर अवैध कब्जे का मामला संज्ञान में आया है। जल्द ही मामले की जांच कराकर दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी।"

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

Share it
Top