आदिवासियों की समस्याओं को लेकर जगी उम्मीद 

आदिवासियों की समस्याओं को लेकर जगी उम्मीद दुद्धी क्षेत्र के नव निर्वाचित विधायक हरिराम चेरो।

रमेश यादव, स्वयं कम्यूनिटी जर्नलिस्ट

दुद्धी (सोनभद्र)। दुद्धी विधानसभा क्षेत्रवासियों को नए विधायक हरिराम चेरो से क्षेत्र के लोगों की बड़ी उम्मीदें हैं। लोगों को भरोसा है कि लम्बे समय से विकास को लेकर उपेक्षित रहे दुद्धी क्षेत्र में आदिवासी के लिए विधायक हरिराम चेरो समस्याओं का निदान करेंगे।

गाँव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

दुद्धी मुख्यालय पर स्थित चाहे इण्टर कालेज हो या डिग्री कालेज, यहां पर हमेशा शिक्षकों की कमी से शिक्षण व्यवस्था प्रभावित रहती हैं। इससे क्षेत्र के आदिवासी बच्चे मोटी रकम देकर किसी प्राइवेट कालेज से शिक्षा ग्रहण नहीं कर पाते हैं। वहीं, बिजली की अनियमित आपूर्ति भी क्षेत्र के लिए बड़ी समस्या है। इसके अलावा स्वास्थ्य सेवाओं की भी कई समस्याऐं हैं।

दुद्धी को जिला बनाना है सबसे बड़ा मुद्दा

क्षेत्र के लोगों को नव निर्वाचित विधायक हरिराम चेरो से दुद्धी को जिला बनाने को लेकर भी बड़ी उम्मीदें हैं। लोगों को आशा है कि दुद्धी जल्द जिला बनेगा। दुद्धी विधायक बने हरिराम चेरो काफी दिनों तक ‘दुद्धी को जिला बनाओ संघर्ष मोर्चा’ के अध्यक्ष रह चुके हैं। किन्हीं कारणों से उन्होंने बाद में अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था लेकिन इसके बावजूद वह हमेशा दुद्धी को जिला बनाने के लिए अपनी आवाज बुलंद करते रहे हैं।

सिंचाई के लिए कोई व्यवस्था नहीं

वहीं सिंचाई की बात करें तो क्षेत्र में सिंचाई का कोई साधन नहीं होने से किसानों को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। किसान जैसे तैसे अपने साधन द्वारा किसी तरह खेती करते हैं या फिर मानसून का इन्तजार करते हैं। ऐसा इसलिे है क्योंकि यहां की खेती पूर्ण रूप से बरसात पर ही निर्भर करती हैं।

बेरोजगारी भी है बड़ी समस्या

दुद्धी विधानसभा क्षेत्र में बेरोजगारी भी बड़ी समस्या है क्योंकि यहाँ फैक्ट्री तो है लेकिन जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा से फैक्ट्रियों में क्षेत्र के बेरोजगारों को रोजगार नहीँ मिलता हैं। जबकि बाहर के लोग यहाँ आकर ठाट-बाट के साथ नौकरी करते हैं और यहां के लोग बेरोजगार होकर सड़कों पर घूमते-फिरते हैं।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top