पूर्वांचल के किसानों को है कर्जमाफी का इंतजार

पूर्वांचल के किसानों को है कर्जमाफी का इंतजारकर्जमाफी के लिए किसान खा रहे दर-दर की ठाेकरें।

जितेंद्र तिवारी, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

गोरखपुर। प्रदेश की योगी सरकार के सौ दिन पूरे हो चुके हैं लेकिन पूर्वांचल के किसानों को अभी भी कर्जमाफी का इंतजार है। किसान प्रतिदिन बैंक के चक्कर लगाते है, विभिन्न माध्यमों से पता करते हैं कि उनकी कर्जमाफी आखिर कब होगी? क्योंंकि योगी सरकार के पहले कैबिनेट बैठक में कर्जमाफी की घोषणा कर दी है। इसके बावजूद भी अभी तक किसानों का बैंक कर्ज माफ क्यों नहीं हो रहा है। इसके लिए लोग गाँव की चौपाल से लेकर चौराहे, बैंक की चौखट व डीएम साहब की कचहरी तक कर्जमाफी के बारें में पता करने के लिए जाते हैं पर वहां से अभी तक कोई स्पष्ट बात नहीं हो रही है। जिसके चलते किसान परेशान हाल में घुम रहे हैं।

योगी सरकार को बदहाल व्यवस्था को मजबूत करने के लिए समय देना जरूरी

दरअसल योगी सरकार का सौ दिन का कार्यकाल पूरा हो चुका है। इसबीच सरकार की ओर से कैबिनेट की पहली बैठक में बैंक के कर्जमाफी का ऐलान किया जा चुका है। सरकार का यह कदम किसानों के लिए राहत की खबर थी, लेकिन धीरे-धीरे समय गुजरता गया, लोग बैंक की चौखट का चक्कर लगाते रहे। लेकिन अभी तक कर्जमाफी नहीं होने से किसान परेशान है। उन्हें यह घोषणा के लागू होने का बेसब्री से इंतजार है। किसान इसके लिए टकटकी लगाए हुए है। इस मुद्दे पर किसानों से जब बात की गई तो यह पता चला की कुछ स्थिति बदली है पर सरकार को अभी बहुत कुछ करना है। प्रदेश में अपराध को कम करना है। इसके अलावा बुुनियादी स्तर पर बहुत काम करने की दरकार है। वैसे भी लोगों का मानना है कि इस सरकार को अभी समय देने चाहिए। किसी भी सरकार के कार्यकाल का अंदाजा सौ दिन में लगाना ठीक नहीं होगा। योगी सरकार के पास पांच साल का मौका है। इस दौरान सरकार काफी कुछ कर सकती है।

गोरखपुर अग्रणी बैंक प्रबंधक, आके सिंह, “फिलहाल प्रदेश सरकार की ओर से किसानों के बैंक कर्जमाफी से जुड़ा कोई गाइड लाइन नहीं आया है। आदेश आते ही उसे लागू किया जाएगा। उम्मीद है कि एक सप्ताह बाद स्थिति स्पष्ट हो जाएगी। गाइड लाइन आने के बाद ही इस पर विस्तार से जानकारी दी जाएगी।”

बिजली की स्थिति सुधरी पर और भी बहुत कुछ करने की है दरकार

किसानों की जुबानी

जंगलकौडिय़ा ब्लॉक के रानाडिह निवासी राजेंद्र सिंह सैंथवार (उम्र 45 वर्ष) ने बताया कि “बैंक कर्जमाफी का किसानों को अभी भी इंतजार है। प्रदेश सरकार को काफी कुछ करना है, सौ दिन में किसी भी सरकार का आंकलन नहीं किया जा सकता।”

जंगलकौडिय़ा ब्लॉक के भागलपुर निवासी नागेंद्र निषाद (उम्र 58 वर्ष) ने बताया कि “योगी सरकार से काफी उम्मीदें है, यह सरकार बेहतर कार्य करने की दिशा में चल रही है। बिगड़ी हुई व्यवस्था को ठीक करने के लिए सरकार जुटी हुई है।”

सरदारनगर ब्लॉक के बघाड़ निवासी छेदी सिंह (उम्र 70 वर्ष) ने बताया कि “योगी सरकार ने कर्जमाफी की घोषणा की है, इससे किसानों को काफी उम्मीद है। हर दिन लोग इसके बारे में पता कर रहे है, देखना है कि यह कब लागू हो रहा है।”

सरदारनगर ब्लॉक के चौरी निवासी हरिगोविंद तिवारी (उम्र 65 वर्ष) ने बताया कि “इस सरकार को अभी समय देने की दरकार है। सौ दिन में किसी भी सरकार को आंकना बेइमानी होगी।सरकार बेहतर कार्य कर रही है। बस किसानों का कर्जमाफी हो जाएं।”

खेती किसानी से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

गाँव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top