यूपी बोर्ड परीक्षा: नकल को लेकर सख़्त नजर आए शिक्षक व अधिकारी

यूपी बोर्ड परीक्षा: नकल को लेकर सख़्त नजर आए शिक्षक व अधिकारीयूपी बोर्ड परीक्षा के पहले दिन एग्ज़ाम हॉल में विद्यार्थी। फोटो: महेंद्र पांडेय 

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

कन्नौज। उत्तर प्रदेश में सरकार बदलने का असर इलाहाबाद बोर्ड परीक्षाओं के पहले दिन दिखा। विषयवार ड्यूटी कर रहे सात शिक्षक कार्यमुक्त कर दिए गए। एक बाबू भी ड्यूटी से हटा दिया गया। दो पालियों की परीक्षा में दो नकलची धरे गए।

जिले के 153 केंद्रों पर हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परीक्षाएं गुरुवार से शुरू हो गई हैं। डीआईओएस विभाग के बाबू संजू सिंह ने बताया कि बीएसए अखंड प्रताप सिंह के नेतृत्व में गठित उड़नदस्ते ने गुगरापुर ब्लॉक क्षेत्र के गुलरियनपुर्वा स्थित गोविंद माधव सेवा समिति में पांच शिक्षकों को कार्यमुक्त कर दिया गया। यह सभी हिन्दी विषय के ही शिक्षक थे। इसी तरह जेएल मेमोरियल इंटर कॉलेज सराय में एक और देवदरबार आश्रम इंटर कॉलेज करीमनगर में दो शिक्षक कार्यमुक्त किए गए। सुबह की पाली में हिन्दी विषय की परीक्षा में तिर्वा तहसील क्षेत्र के एक परीक्षा केंद्र पर हाईस्कूल का एक नकलची पकड़ा गया। डीआईओएस केपी सिंह यादव ने आरबीएसडी इंटर कॉलेज गागेमऊ में एक बाबू को कार्यमुक्त किया गया। तिर्वा के ही एक इंटर कॉलेज में इंटरमीडिएट हिन्दी की परीक्षा में एक छात्रा को नकल करते धरा गया।

हाईस्कूल में 5,442 ने छोड़ी परीक्षा

पहले दिन सुबह की पाली में हाईस्कूल में हिन्दी का पेपर था। इसमें कुल 30,621 परीक्षार्थी पंजीकृत थे। परीक्षा में 25,179 परीक्षार्थी षामिल हुए। हाईस्कूल में 5,442 परीक्षार्थी गैरहाजिर रहे। देर शाम तक इंटरमीडिएट में शामिल होने वाले परीक्षार्थियों का डाटा नहीं मिल सका।


ललितपुर में हुई नकलविहीन परीक्षा

ललितपुर। यूपी बोर्ड हाईस्कूल और इंटरमीडिएट 2017 के लिए इस बार ललितपुर में नकलविहीन इंतज़ाम कराए गए थे। जिला कलेक्टर डॉ. रूपेश कुमार ने पहले से ही बोर्ड परीक्षा से जुड़े अधिकारियों के अलावा पुलिस और प्रशासन के अधिकारियों की बैठक लेकर आवश्यक निर्देश दिए थे। साथ ही हिदायत दी थी कि परीक्षा के समय कोई भी गड़बड़ी या नकल करते हुए पाया जाता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी।

इस बार बोर्ड की परीक्षा के लिए जिले में 42 केंद्र बनाए गए हैं और जहां 35 हजार 993 छात्र-छात्राएं परीक्षाएं परीक्षा दे रहे हैं।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Share it
Top