सरकार कोई भी बने हमें नहीं मिलता लाभ 

Neetu SinghNeetu Singh   14 March 2017 3:52 PM GMT

सरकार कोई भी बने हमें नहीं मिलता लाभ ग्रामीणों को नई सरकार आने की कोई खुशी नहीं है।

नीतू सिंह /दिति बाजपेई स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

बख्शी का तालाब (लखनऊ)। एक ओर जहां उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मतगणना के रूझानों में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) भारी बढ़त पर खुशी मना रही है। वहीं दूसरी ओर ग्रामीणों को नई सरकार आने की कोई खुशी नहीं है। “सरकार कोई भी बन जाए, जीतने के बाद कोई हमारे गाँव मुड़कर नहीं देखेगा, वोट मांगने के समय ही नेता जी की हम शक्ल देख पाते हैं, फिर पांच साल तक कोई अता-पता नहीं रहता।“ ये कहना है लखनऊ में रहने वाली 55 वर्षीय केतकी देवी का।

चुनाव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

लखनऊ जिला मुख्यालय से 30 किलोमीटर दूर बख्शी का तालाब ब्लॉक की सबसे बड़ी ग्राम पंचायत कठवारा के आठ गाँवों में विधानसभा रिजल्ट आने के बाद बहुत ज्यादा उत्सुकता नजर नहीं आयी। हर रोज की तरह ग्रामीण अपने कामकाज करते नजर आए।

कठवारा गाँव की राम दुलारी (60 वर्ष) हर रोज की तरह विधानसभा रिजल्ट वाले दिन भी सुबह अपने जानवरों के लिए चारा लेने खेत पर चली गयी उन्होंने कहा, “कोई भी जीते हमे क्या मतलब, गरीबों की तो कोई सुनता नहीं है, सबने कमल पर वोट दिया तो हमने भी दे दिया। सरकार कोई भी बने हमारी पेंशन नहीं बधेंगी न ही हमे कालोनी मिलेगी।”

राम दुलारी की तरह इस ब्लॉक के कई गाँवों में ग्रामीण अपने रोजमर्रा के कामकाज करते ही नजर आये। इस गाँव के निवासी रामचन्द्र रैदास (50 वर्ष) का कहना है, “हमे कौन पूछेगा जीतने के बाद, जो गाँव के बड़े लोग हैं, नेता उन्ही के घर आते हैं उन्ही से बात करते हैं, इसलिए किसी के जीतने हारने से हमे कोई फर्क नहीं पड़ता।”

बीजेपी ने किसानों से किए हैं हजारों वादे

यूपी विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने अपना घोषणा पत्र में कई वादे किए। उन वादों के बारे में बख्शी का तालाब ब्लॉक के सीवां गाँव में रहने वाले कमलेश चौहान (45 वर्ष) बताते हैं, “अपनी सरकार लाने के लिए नेता लोग जनता से कई वादे करते है पर उनमें से लागू कुछ ही होते है। सिर्फ भाषणों में ही गाँव का विकास होता है। अगर गाँव में रहकर देखे तो गाँव का विकास कर पाऐंगे।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top