स्वास्थ्य परीक्षण के साथ साथ बच्चों को पुलिस विभाग द्वारा पुलिस सेवाओं की दी गई जानकारी

स्वास्थ्य परीक्षण के साथ साथ बच्चों को पुलिस विभाग द्वारा पुलिस सेवाओं की दी गई जानकारीपूर्व माध्यमिक विद्यालय में स्वास्थ्य शिविर में मौजूद लोग।

भारती सचान, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

अकबरपुर (कानपुर देहात)। पानी में फ्लोराइड की अधिकता होने की वजह से बड़े लोगों के साथ-साथ बच्चों के दांत भी पीले हो रहे हैं। गाँव कनेक्शन फाउंडेशन की तरफ से आयोजित कार्यक्रम में कानपुर देहात जिले के जूनियर स्कूल में बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। जिसमें ज्यादातर बच्चों के दांत पीले थे।

सेहत से सम्बंधित खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

जिला मुख्यालय से 10 किलोमीटर दूर दक्षिण दिशा में गौरियापुर गाँव के पूर्व माध्यमिक विद्यालय में स्वास्थ्य शिविर का आयोजन और पुलिस विभाग की सरकारी योजनाओं की जानकारी दी गयी। बच्चों के स्वास्थ्य परीक्षण के लिए स्वास्थ्य विभाग के राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम से आये डॉ. दीक्षांत तिवारी ने बताया, “जब पानी में एक पीपीएम फ्लोराइड की मात्रा बढ़ जाती है तो इससे दांतों में फ्लोरोसिस हो जाता है। इस स्कूल के ज्यादातर बच्चों के दातों में पीलेपन की शिकायत मिली। बच्चों को दवा दे दी है और साथ ही बच्चों को शुद्ध पानी पीने या पानी को उबाल कर पीने की सलाह दी।”

स्कूल में पढ़े रहे छात्र विनय कुमार ने बताया, “मेरे हाथ-पैरों में हमेशा खुजली होती रहती है, आज डॉ. साहब को बताया है तो हमें फ्री में दवा मिली है।” वहीं स्कूल में पढ़ने वाली दिव्या ने बताया, “मेरे पैरों में एक हफ्ते से दर्द हो रहा था, हम दवा लेने नहीं गये थे, सोचा अपने आप ही ठीक हो जाएगा, आज स्कूल में आराम से दवा मिल गयी, बहुत खुशी मिली।” राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम से आयीं डॉ. शेफाली सिंह बताती हैं, “गाँव की महिलाओं और किशोरियों में जांच के दौरान आयरन की कमी पायी गयी उन्हें आयरन की गोली दे दी है, जिसे उन्हें नियमित तौर पर इस्तेमाल करना होगा।”

इस शिविर में 150 बच्चे और गाँव के महिला, पुरुष शामिल थे। कैम्प में आयी राजरानी (65 वर्ष) अपने घुटनों के दर्द से परेशान थीं उन्हें दवा मिल गयी, जिससे वो बहुत खुश थीं। वहीं रीना सिंह (48 वर्ष) माहवारी की अधिकता से परेशान थीं उन्हें डॉक्टर ने तुरंत स्वास्थ्य केंद्र पर आने की सलाह दी।

पुलिस विभाग की दी गई जानकारी

इस स्कूल में स्वास्थ्य शिविर के अलावा पुलिस विभाग की तरफ से सरकारी योजनाओं की जानकारी देने आयीं सब इंस्पेक्टर रीना सिंह ने सभी को बताया, “जब भी महिलाओं और किशोरियों को कोई परेशान कर रहा हो तो तुरंत 1090 डायल करके शिकायत करें। अगर आसपास कहीं झगड़ा हो जाता है तो तुरंत 100 नम्बर डायल करके पुलिस को सूचना दें।” वो आगे बताती हैं, “अगर कोई भूला हुआ बच्चा रास्ते में स्टेशन पर कहीं भी दिखे तो 1098 पर चाइल्ड लाइन को सूचित करें।” ग्रामीण और बच्चे ये जानकारी पाकर बहुत खुश थे।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top