निजी अस्पताल की मनमानी से अधेड़ ने गंवाई जान

निजी अस्पताल की मनमानी से अधेड़ ने गंवाई जाननिजी अस्पताल की मनमानी से मरीज परेशान।

श्रीवत्स अवस्थी ,स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

उन्नाव। स्वास्थ्य विभाग की अनदेखी की वजह से जिले में निजी अस्पतालों की मनमानी बढ़ती ही जा रही है। ऐसे ही एक मामले में मंगलवार को एक अधेड़ की मौत हो गयी। परिजनों ने मामले की शिकायत उच्च अधिकारियों से करने के बात कही है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

बीघापुर थानाक्षेत्र के घातमपुरखुर्द में रहने वाले प्यारेलाल (55) पुत्र मुन्नीलाल की सोमवार को तबियत बिगड़ गयी थी। परिजनों ने बताया कि उन्हें तेज पेट दर्द हुआ था। इलाज के लिए पहले वह क्षेत्र के अस्पताल गए। यहाँ से वह प्यारेलाल को लेकर उन्नाव के एक नर्सिंग होम आ गए। जहाँ चिकित्सकों ने उसे भर्ती कर लिया।

परिजनों का आरोप है कि प्यारेलाल की लगातार तबियत बिगड़ती रही लेकिन चिकित्सकों ने उन्हें दूसरे अस्पताल में रेफेर नहीं किया। इस बीच जब हालत पूरी तरह से बिगड़ गयी तब डॉक्टरों ने प्यारेलाल को रेफेर किया।

जिला अस्पताल में चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। वहीं, सीएमओ चंद्रभूषण का कहना है कि ऐसे किसी भी मामले की जानकारी नहीं मिली है। अगर यह मामला प्रकाश में आता है तो इस पर जांच की जाएगी।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top