Top

कन्नौज में ब्लॉक प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव 

Ajay MishraAjay Mishra   2 April 2017 6:55 PM GMT

कन्नौज में ब्लॉक प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव डीएम को अविश्वास प्रस्ताव के हलफनामे सौंपते भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष। 

कन्नौज। उत्तर प्रदेश के कन्नौज जिले से ब्लाॅक प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाए जाने की प्रक्रिया शनिवार को शुरू हो गई। बहुमत से अधिक बीडीसी ने हलफनामे डीएम को सौंपे।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

शनिवार को देर शाम भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष सुब्रत पाठक और ब्लाॅक प्रमुख उमर्दा के दावेदार अजय वर्मा समेत कई भाजपा नेता और बीडीसी वर्तमान प्रमुख इंद्रेश यादव के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव की फाइल लेकर डीएम जगदीश के कैंप कार्यालय पहुंचे। यहां डीएम को बताया कि ब्लाॅक क्षेत्र में 145 बीडीसी हैं। 92 बीडीसी ने प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव जताया है।

पूर्व ब्लाॅक प्रमुख ने बताया कि बहुमत से 20 बीडीसी उनके साथ अधिक हैं, जिन्होंने शपथ पत्र दिए हैं। अधिवक्ता बृजेश शुक्ल ने बताया कि एक साल के बाद किसी भी प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाया जा सकता है। भाजयुमो प्रदेश अध्यक्ष ने अविश्वास प्रस्ताव की प्रक्रिया तेज करने का निवेदन डीएम से किया। उधर, डीएम ने ‘गांव कनेक्शन’ के सवाल पर कहा कि ‘‘शपथ पत्र और एक्ट देखेंगे। उसके बाद प्रक्रिया आगे बढ़ाई जाएगी।’’इस मौके पर भाजपा नेता श्याम स्वरूप चतुर्वेदी, मिथलेश बाथम, आशू मिश्र, सौरभ कटियार, सचिन शर्मा आदि कई बीडीसी मौजूद रहे।

दूसरी ओर पूर्व ब्लाॅक प्रमुख अजय वर्मा ने बताया कि ‘‘सूबे में कन्नौज के उमर्दा ब्लाॅक से पहले किसी प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव की प्रक्रिया शुरू हुई है। मेरठ में जिला पंचायत अध्यक्ष के खिलाफ हलफनामे दिए जा चुके हैं। वहां 25 अप्रैल वोटिंग की भी डेट लगी हुई है। शपथ पत्र देने के एक महीने के भीतर प्रक्रिया पूरी करनी होती है। 15 दिन पहले बीडीसी को नोटिस भेजकर इसकी जानकारी दी जानी जरूरी होती है।’’

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.