कानपुर की महिलाओं ने की एंटी रोमियो की  स्क्वॉयड की सराहना

कानपुर की महिलाओं ने की एंटी रोमियो की  स्क्वॉयड की सराहनालखनऊ में महिलाओं को समाझाती रोमियो स्क्वायड टीम । फोटो-महेंद्र पाडेंय

अमित कुमार (कम्युनिटी जर्नालिस्ट)

कानपुर नगर। शुक्रवार शाम को जब आरती अपने आफिस से घर की ओर जा रही थी तो रोज की ही तरह वो लड़का उसके पीछे पीछे चल रहा था। तभी कुछ लोग आए और मचनले को दबोच लिया। मनचले को दबोचने वाले लोग एंटी रोमियो स्क्वायड टीम के सदस्य थे।

योगी सरकार ने सत्ता संभालते ही प्रदेश की बहन और बेटियों की सुरक्षा और सम्मान के लिए लखनऊ, कानपुर, झांसी, इलाहाबाद, मेरठ और प्रदेश के अन्य शहरों में यूपी पुलिस की एंटी रोमियो स्क्वायड टीम सड़कों पर आ गई है।

कानपुर नगर से 25 किलोमीटर दूर स्थित थाना घाटमपुर की चौकी पतारा के अंतर्गत धरमपुर गाँव की संध्या सिंह (21) कहती हैं, "यह एक अच्छी शुरुआत है, लेकिन सबसे बड़ी समस्या यह होती है की जब हम कहीं आते जाते हैं तो हमको गाँव की सड़कों से आना- जाना पड़ता है शहर में तो पुलिस की गस्त आसन होती है, लेकिन गाँव में ये थोड़ा मुश्किल है। यदि ग्रामीण क्षेत्रों में अधिक संख्या में एंटी रोमियो टीम का गठन होना चाहिए।"

लखनऊ ज़ोन के पुलिस महानिरीक्षक सतीश भारद्वाज ने मंगलवार को यूपी के 11 ज़िलों में महिलाओं से छेड़खानी रोकने के लिए 'एंटी रोमियो दल' बनाने का ऐलान किया था। इन दलों में कॉन्सटेबल, हेड कॉन्सटेबल, सब इंस्पेक्टर, यूपी 100 और 1090 टीम से जुड़े लोग भी होंगे।

वहीं कानपुर नगर के किदवई नगर स्थित वृहस्पति महिला महाविद्यालय की शिक्षिका वंदना( उम्र 31 वर्ष) बताती हैं, “नयी सरकार का यह कदम महिलाओं की सुरक्षा के लिए काफी सराहनीय है। कालेज के बाहर लगने वाली मनचलों की भीड़ कम हो गई है। अब लड़किया घर के साथ-साथ बाहर भी अपने को सुरक्षित महसूस करने लगी हैं।”

Share it
Top