पीलीभीत जिला अस्पताल में स्टाफ की कमी, लगा गंदगी का अंबार

पीलीभीत जिला अस्पताल में स्टाफ की कमी, लगा गंदगी का अंबारजिला अस्पताल पीलीभीत में गंदगी का अम्बार लगा है।

अनिल चौधरी ,स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

पीलीभीत। प्रदेश में हुए सत्ता परिवर्तन के साथ ही प्रदेश व केन्द्र सरकार प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं पर विशेष ध्यान दे रही है, लेकिन जिला अस्पताल पीलीभीत में गंदगी का अम्बार लगा है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

जगह जगह रखी डस्टबिन कूड़े से भरी रहती हैं। अस्पताल परिसर में सफाई पर बिल्कुल ध्यान नहीं दिया जाता। इसके साथ ही जिला चिकित्सालय पहले की भांति डाक्टरों व स्टाफ की कमी से जूझ रहा है। जो डाक्टर यहां नियुक्त हैं वह भी अपने चैम्बरों से गायब रहते हैं या फिर समय पर अपने चैम्बरों में नहीं बैठते हैं।

इस जिला चिकित्सालय में 27 डाक्टरों के पद है जिसमें से केवल 17 डाक्टर ही कार्य कर रहे हैं। कमाल की बात तो यह है कि 130 बेड वाले इस जिला चिकित्सालय में कोई सर्जन नहीं हैं। अस्पताल के अधीक्षक डा. आरसी शर्मा ने बताया, ‘पूर्व सरकार के कार्यकाल में अस्पताल परिसर में विभागों की बिल्डिंग बनाने में तो काफी पैसा खर्च किया गया। लेकिन स्टाफ की नियुक्ति करने पर कोई ध्यान नहीं दिया गया। पिछले तीन साल से जिला चिकित्सालय डाक्टरों की कमी से जूझ रहा है।’

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top