अब माताओं के समूह की नज़र रहेगी बच्चों के मिड-डे मील पर

Swati ShuklaSwati Shukla   22 May 2017 9:13 AM GMT

अब माताओं के समूह की नज़र रहेगी बच्चों के मिड-डे मील परमिड डे मील की गुणवत्ता पर नजर रखने के लिए मां की टोली तैयार है।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

लखनऊ। मिड-डे मील की गुणवत्ता पर नजर रखने के लिए मां की टोली तैयार है। अपने क्षेत्र में छह सदस्यीय मां के इस दल का गठन कर उनके नामों को अधिकारियों ने बेसिक शिक्षा निदेशालय को भेज दिया है। ग्रीष्मावकाश के बाद ये टीमें अपने-अपने क्षेत्र के परिषदीय स्कूलों में पहुंचकर बच्चों को परोसे जाने वाले मध्याह्न भोजन की जांच करेंगी। भोजन की गुणवत्ता ही नहीं स्कूल की अन्य व्यवस्थाओं पर भी वे नजर रखेंगी।

मिड-डे मील में आए दिन मिलने वाली शिकायतों को देखते हुए बेसिक शिक्षा मंत्री अनुपमा जायसवाल ने अधिकारियों के साथ बैठक कर परिषदीय स्कूलों की व्यवस्था सुधारने का निर्देश दिया था। साथ ही मध्याह्न भोजन की गुणवत्ता को सुनिश्चित करने के लिए स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों की माताओं की छह सदस्यीय टीम गठित करने को कहा था।

ये भी पढ़ें- जनता दरबार में CM ने दृष्टिहीन बेटियों को हर संभव मदद का दिया आश्वासन

मिड-डे मील की गुणवत्ता के साथ स्कूलों की व्यवस्थाओं पर भी उनकी संतुष्टि को अहमियत देने की बात कही थी। 20 मई तक इसका गठन कर जानकारी देने का निर्देश भी मंत्री ने दिया था। चूंकि 21 मई से स्कूलों में ग्रीष्मावकाश शुरू हो जाएंगे। तमाम क्षेत्रों से मां की टीम की जानकारी शनिवार को बेसिक शिक्षा अधिकारियों तक पहुंचा दी गई है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top