‘सरकार चाहे जिसकी भी हो हमें दूध का सही रेट चाहिए’

दिति बाजपेईदिति बाजपेई   12 March 2017 1:07 PM GMT

‘सरकार चाहे जिसकी भी हो हमें दूध का सही रेट चाहिए’प्रदेश के सभी दुग्ध उत्पादक नई सरकार से यही मांग कर रहे है कि उनको दूध का सही दाम मिल सके।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

लखनऊ। प्रदेश के सभी दुग्ध उत्पादक नई सरकार से यही मांग कर रहे है कि उनको दूध का सही दाम मिल सके। “अखिलेश यादव ने दूध के दामों को बढ़ाने के लिए कुछ नहीं किया और बीजेपी के घोषणापत्र में भी दूध का दामों के बढ़ने का कोई जिक्र नहीं है, जबकि दूध के रेट न मिलना दुग्ध उत्पादकों की सबसे बडी परेशानी है।” ऐसा बताते हैं, दुग्ध उत्पादक संतोष त्रिपाठी (35 वर्ष)।

गाँव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

लखनऊ जिला मुख्यालय से 15 किलोमीटर दूरी पर स्थित किसान दुग्ध मंडी उत्पाद में संतोष रोज दूध बेचने के लिए आते हैं। संतोष जैसे सभी दूध व्यापारियों की नई सरकार से उम्मीदें जुड़ी हुई है। बीकेटी ब्लॉक के छठामील गाँव में रहने वाले अनिल प्रजापति (55 वर्ष) बताते हैं, “इस समय मंडी दूध 35-40 रुपए प्रति लीटर में बिक रहा है, इससे ज्यादा खर्चा पशु को खिलाने में चला जाता है। नई सरकार को दूध का रेट 50-55 रुपए कर देना चाहिए।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top