आलू के दामों में मामूली बढ़ोतरी, 300-450 कुंटल तक पहुंचीं कीमतें

Virendra ShuklaVirendra Shukla   15 March 2017 7:17 PM GMT

आलू के दामों में मामूली बढ़ोतरी, 300-450 कुंटल तक पहुंचीं कीमतेंआलू के रेट में मामूली बढ़ोतरी होने से किसानों को थोड़ी राहत मिल सकती है।

बाराबंकी। आलू की कम कीमतों से परेशान आलू किसानों के लिए मामूली राहत की ख़बर है। आलू की कीमतों में 10-20 फीसदी का सुधार हुआ है। फिलहाल सफेद आलू 300 के आसपास तो लाल आलू 400 रुपये प्रति कुंटल तक मांगा जाने लगा है।

आलू की बंपर पैदावार के बाद होली की पहले हुई बारिश से सबसे ज्यादा नुकसान आलू किसानों को हुआ है। 10 मार्च को जब पहली बार बारिश हुई यूपी के बाराबंकी से लेकर कन्नौज और बदायूं तक हजारों एकड़ आलू खेतों में खुदा पड़ा था, जिससे वो भीग गया। जानकारों की मानें तो जो जिन खेतों में तुरंत पानी सूख गया था जैसे बालू वाले खेत उनमें नुकसान की गुंजाइश कम है लेकिन दोमट मिट्टी वाले खेतों में नुकसान ज्यादा हो सकता है। हालांकि इसी बीच राहत की ख़बर है कि आलू की कीमतों में मामूली सुधार हुआ है। बाराबंकी में होली के बाद सफेद आलू जो 230 रुपये कुंटल तक मांगा जा रहा था वो 300 के करीब पहुंच गया जबकि लाल 360 से 400 सौ रुपये प्रति कुंटल तक।

बाराबंकी जिला मुख्यालय से 50 किलोमीटर दूर उत्तर दिशा में स्थित बेलहरा कस्बा के राजकुमार राजपूत बताते हैं, ‘’हां राहत मिलने की उम्मीद जगी है। किसान भाइयों को कम से कम 600 रूपये कुंतल आलू कीमत मिलनी चाहिए।‘’

सब्जी की खेती करने वाले राजकुमार आगे बताते है, ‘’ नोट निकासी की सीमा 13मार्च को समाप्त हो गयी है। किसानों को होली के बाद आलू के दामों में बढ़ोतरी से हालांकि ज्यादा लाभ नहीं है, किसान को अभी भी उसके मन के मुताबिक पैसे नहीं मिल रहे है।’’

वहीं सूरतगंज ब्लॉक के गंगापुर निवाशी रामचंद्र वर्मा (40वर्ष) बताते हैं, ‘’हमारे पास 5 एकड़ आलू लगा था, बारिश के डर हमने अपना आलू सस्ता बेच दिया था, पर अभी भी हमारे पास 13 बीघा आलू लगा है। आलू के बढ़ते दामों से अब हमको अच्छे दाम मिल सकेंगे।” बताया जा रहा है नोट निकासी की सीमा और चुनाव हो जाने से बड़े कारोबारी भी आलू स्टोर करेंगे।

कृषि विपणन एवं कृषि व्यापार के सह निदेशक उत्तर प्रदेश दिनेश चंद्रा बताते है, ‘’पिछले कुछ समय से आलू के दामों से किसानों को कुछ राहत मिली है। आलू का रेट 300 रुपए से 450 रुपए प्रति कुंटल हुआ है।”

बाराबंकी में फतेहपुर ब्लॉक के स्थानीय व्यापारी फज्जू (45 वर्ष) बताते है, ‘’काटनर आलू 400 रुपए, सफ़ेद 280, लाल आलू लगभग 350 रुपए प्रति कुंटल हो गया है। आलू के रेटो में इजाफा होना शुरू हुआ है, जिससे किसानों ने आलू बेचना रोक दिया है, क्योंकि आलू आगे आलू के दाम बढ़ने के इन्तजार में बैठ गये हैं।”

जिन खेतों में लग गया है पानी वो ये करें

बेलहरा के जागरुक किसान रमेश चंद्र मौर्य बताते हैं, अब किसान कोशिश करें कि खेत से आलू जो निकल रहा है उसमें दाग न लगने पाए, इसलिए वो कोशिश करें की आलू हाथ से खुदाई कराएं, दूसरा आलू छांव में रखें, धूप में रखने से वो पानी छोड़ सकता है।

वो सलाह देते हैं जिस आलू में दाग (कटा या छिलका हट गया है) लग गया है और जिस आलू में पानी निकल रहा है उसे कोल्ड स्टोरेज में न रखें।

सहयोग- वीरेंद्र सिंह

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top