एक साल बीतने के बाद भी नहीं शुरू हुआ मनरेगा कार्य

एक साल बीतने के बाद भी नहीं शुरू हुआ मनरेगा कार्यसाल गुजर जाने के बाद मनरेगा कार्य अभी तक शुरू होने का नाम ही नहीं लिया जा रहा है।

बबलू वर्मा, स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

शाहजहांपुर। सिरोमन नगर गाँव में एक साल गुजर जाने के बाद मनरेगा कार्य अभी तक शुरू होने का नाम ही नहीं लिया जा रहा है।

बीती 24 फरवरी 2016 को कार्य शुरू हुआ और केवल 30 दिनों के बाद कार्य बन्द हो गया। उसके बाद अभी तक कार्य शुरू नहीं हुआ। जिन मजदूरों ने इतने दिन कार्य किया, उनमें बहुत लोगों को पैसा अब तक उनके खातों में नहीं पहुंचा। सिरोमन गाँव के कमलेश कुमार (33 वर्ष) बताते हैं, “पिछले बार पूरा दो महीना काम किए। थोड़े रुपए मिले उसके बाद अभी तक कोई पैसा नहीं मिला है।”

गाँव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

सिरोमन गाँव के नियमराम (40 वर्ष) बताते हैं, “मजदूरों की कोई नहीं सुनता है। अगर कहीं सूचना दे भी दें तो गाँव का रोजगार सेवक उन्हें धमकाता है। वह कहता है यदि इसकी शिकायत कहीं की तो तुम्हारा लिस्ट से नाम काट देंगे। इसलिए किसी से इसके बारे में कहते तक नहीं हैं। प्रधान भी रोजगारसेवक का पक्ष ले रहे हैं।लेखपाल भी जांच के नाम पर खानापूर्ति करता है। ऐसे में मजदूरों के साथ अन्याय हो रहा है।”

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top