मेरठ में रखरखाव के अभाव में बदहाल है नेहरू पार्क

मेरठ में रखरखाव के अभाव में बदहाल है नेहरू पार्करख रखाव के अभाव से पार्क हुआ बदहाल 

विकास यादव, स्वय कम़्युनिटी जर्नलिस्ट

हस्तिनापुर(मेरठ)। कस्बे के लोगों और बच्चों के मनोरंजन के लिए नेहरू पार्क बनाया गया था, लेकिन उपेक्षा का शिकार यह पार्क अपनी बदहाली पर आंसू बहा रहा है। रख रखाव के अभाव में इस पार्क के झूले टूट चुके हैं। पार्क में हर तरफ झाड़ियां उगी हुई हैं। बदाहाली के कारण बच्चे पार्क में खेल नहीं पाते हैं।

हस्तिनापुर राज्य सेक्टर योजना के तहत 2003 में नेहरू पार्क बनाया गया था। पार्क के बीचों बीच सुंदर फव्वारा बनवाया गया था। पार्क में फूल-पौध व फुलवारी लगायी गयी थी। उस समय यह पार्क आकर्षण का केंद्र हुआ करता था। लेकिन समय के साथ पार्क की बदहाली शुरू हो गयी। पार्क में फूल-पौधे लगने ही बंद हो गए।

जिस नेहरू पार्क में कभी हस्तिनापुर के लोग टहला करते थे, बच्चे खेला करते थे आज उस पार्क की इतनी बदतर स्थित है कि लोगों ने अपने बच्चों को इस पार्क में जाने से मना कर रखा है, क्योंकि पार्क में सांप बिच्छू आदि रहते हैंl

पार्क के बीचों बीच सुंदर फव्वारा बनवाया जो एक दिन भी नहीं चला।

पार्क के पास में रहने वाले श्याम सुंदर दास (65 वर्ष) बताते हैं,“ पहले यह पार्क हम लोगों और बच्चों के प्रिय स्थान हुआ करता था।सुबह शाम कस्बे के लोग यहां टहलने आते थे, लेकिन प्रशासन की उपेक्षा की चलते यह पार्क पूरी तरह से वीरान हो चुका है।”

वहीं पार्क के पास दुकान चलाने वाले मोहन कुमार (36 वर्ष) का कहना है,“ पहले पार्क में चौकीदार हुआ करता था,जिससे अराजक तत्व पार्क में नहीं आते थे, लेकिन अब न जाने चौकीदार कहां चला गया। साफ-सफाई नहीं होने के कारण पार्क में झाड़ियां उग आई हैं। पार्क में कीड़े मकोड़े हो गए हैं, जिससे बच्चे यहां खेलने से कतराते हैं।”

हस्तिनापुर नगर पंचायत के ईओ पवित्रा त्रिपाठी बताती हैँ, “मामला मेरे संज्ञान में आज ही आया है। आज ही सफाईकर्मी को भेजकर पार्क में फैली गंदगी को साफ कराया जाएगा। पार्क में जो कमी है उसे सही कराया जाएगा। शीघ्र ही पार्क का सुंदरीकरण कराया जाएगा।”

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top