न बस स्टॉप, न सड़क, लोग परेशान  

न बस स्टॉप, न सड़क, लोग परेशान  प्रतीकात्मक फोटो।

आकाश सिंह, स्वयं कम्यूनिटी जर्नलिस्ट

बाराबंकी। जिला मुख्यालय से सबसे नजदीक हैदरगढ़ विधानसभा की हालत लगातार खस्ताहाल होती जा रही है। एक तरफ जहां यहां सड़क ऊबड़-खाबड़ है, वहीं बस स्टॉप की स्थिति भी खस्ताहाल है। जिम्मेदारों की अनदेखी की वजह से लोगों को सुविधाएं नहीं मिल रही हैं।

गाँव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

हैदरगढ़ से लखनऊ प्रतिदिन आने-जाने वाले राहुल यादव बताते हैं कि हैदरगढ़ का बस स्टाप जो कि शासन द्वारा डिपो घोषित है, वहाँ पर न तो बसें रुकती हैं और न ही यात्रियों की सुविधाओं की ओर ध्यान दिया जाता है। वह आगे कहते हैं कि हैदरगढ़ को टाउन की श्रेणी में गिना जाता है, जबकि यहाँ पर टाउन जैसी कोई भी सुविधा उपलब्ध नही है। वहीं, गांवों को हैदरगढ़ से सीधे जोड़ने वाली सड़कों की हालत रोज के रोज बिगड़ती जा रही है।

सिर्फ इतना ही नहीं, दुकानदारों द्वारा सड़क पर अतिक्रमण करने के कारण हैदरगढ़ में जाम की समस्या बनी रहती है। स्थानीय निवासी अरुणेंद्र का कहना है कि अधिकारी जानते हुए भी खामोश रहते हैं और जब जनता शिकायत करती है तो आश्वासन देकर उन्हें टाल दिया जाता है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top