पीलीभीत टाइगर रिजर्व को मिलेंगे चार हाथी

पीलीभीत टाइगर रिजर्व को मिलेंगे चार हाथीबाघों को पकड़ने के लिए दुधवा नेशनल पार्क से मंगाए जा रहें हाथी।

अनिल चौधरी, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

पीलीभीत। जनपद स्थित टाइगर रिज़र्व को जल्द ही चार हाथी और मिलेंगे। इससे पहले वन विभाग पीलीभीत के पास अपना कोई हाथी नहीं था। ऐसे में बाघों को पकड़ने के लिए वन विभाग दुधवा नेशनल पार्क से हाथी मंगाता था।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

जनपद स्थित टाइगर रिज़र्व से सटे आबादी वाले क्षेत्रों में जंगल से निकलकर बाघ आ जाते हैं। पिछले दिनों इन आबादी वाले क्षेत्रों में जंगल से निकले बाघों ने करीब सात लोगों को अपना शिकार बनाया था। इंसानों के साथ-साथ पालतू पशुओं पर भी इन बाघों ने हमला किया और इनको मार डाला। जनपद में स्थित वन विभाग के पास अब भी ऐसे संसाधन नहीं हैं, जिससे वह आदमखोर शेरों को पकड़ सकें।

जब भी कोई बाघ आबादी वाले क्षेत्र में घुस जाता है, उसे पकड़ने के लिए दुधवा नेशनल पार्क से हाथियों और टेक्नीकल सामान सहित टीम को बुलाया जाता है। वन विभाग पीलीभीत के पास अपना कोई हाथी नहीं हैं लेकिन अब इस समस्या का समाधान होता नजर आ रहा है। जल्द ही कर्नाटक से चार हाथी वन विभाग पीलीभीत को प्राप्त हो जाएंगे।

इससे पहले 9 जून 2014 को जनपद के जंगलों को टाइगर रिज़र्व क्षेत्र घोषित किया गया था। पिछले दिनों जनपद में बाघ पकड़ने के लिए दुधवा नेशनल पार्क से दो हाथी बुलाए गए थे। वन विभाग पीलीभीत के पास ड्रोन कैमरा भी नहीं है। मामले को गंभीरता से लेते हुए जिलाधिकारी मासूम अली सरवर के प्रयास से शासन से चार हाथियों की मंजूरी मिली है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Share it
Top