फैजाबाद मंडल में सौर ऊर्जा से नलकूप चलाने की तैयारी

फैजाबाद मंडल में सौर ऊर्जा से नलकूप चलाने की तैयारीफैजाबाद मंडल के राजकीय नलकूपों को सौर ऊर्जा से चलाने के लिए भेजा गया प्रस्ताव।

रबीश कुमार, स्वयं कम्यूनिटी जर्नलिस्ट

फैजाबाद। फैजाबाद मंडल के 1256 राजकीय नलकूप को सौर ऊर्जा से चलाने के लिए प्रस्ताव भेजा गया है। ऐसे में अब राजकीय नलकूप सौर ऊर्जा से संचालित हो सकते हैं।

इस बारे में मुख्य अभियंता नलकूप प्रमोद कुमार वर्मा ने बताया कि सौर ऊर्जा से राजकीय नलकूपों को संचालित करने से बिजली की बचत होगी और बिजली के बिल में बचत होने से विभाग को बड़ी धनराशि प्रति वर्ष जो बिजली विभाग को देना पड़ता है, वह भी बचत होगी। उन्होंने बताया पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर सिद्धार्थनगर में एक राजकीय नलकूप का संचालन सौर ऊर्जा के माध्यम से किया जा रहा है, वह काफी हद तक सफल है। उसी के बाद से सौर ऊर्जा से राजकीय नलकूपों को संचालन करने का प्रस्ताव तैयार कर लिया गया है। सौर ऊर्जा से संचालित किए जाने वाले राजकीय नलकूपों में डेढ़ क्यूसेक और एक क्यूसेक पानी देने वाले राजकीय नलकूप शामिल हैं।

सौर ऊर्जा से संचालित करने में प्रत्येक नलकूप करीब 10 लाख का खर्च आएगा, जिसमें 30 फ़ीसदी भारत सरकार तथा 70 फ़ीसदी धनराज राज सरकार खर्च करेगी। राजकीय नलकूप में फैजाबाद में 100, अंबेडकरनगर में 60, सुल्तानपुर में 50, अमेठी में 40, बाराबंकी में 75, गोंडा 80, बलरामपुर 80, बहराइच, श्रावस्ती जिले में 40, गोरखपुर 150, देवरिया में 100, कुशीनगर में 40, महाराजगंज में 70, बस्ती में 100, राजकीय नलकूप सौर ऊर्जा में तब्दील किए जाएंगे।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

Share it
Top