बारिश ने आम बागवानों की भी बढाई चिंता

बारिश ने आम बागवानों की भी बढाई चिंतातेज हवाओं के साथ हुई बारिश ने आम बागवानों की चिंताए बढ़ा दी है।

सुरेन्द्र कुमार, स्वयं कम्यूनिटी जर्नलिस्ट

मलिहाबाद। तेज हवाओं के साथ हुई बारिश ने आम बागवानों की चिंताए बढ़ा दी है। अगर ऐसा ही मौसम रहा तो इस बार आम की फसल पूरी तरह से चौपट हो जायेगी। फलपट्टी क्षेत्र माल, काकोरी व मलिहाबाद मे इस बार 35 प्रतिशत आम के पेड़ों मे ही बौर आया है। कम बौर देख बागवान चिन्तित थे।

खेती किसानी से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

शुक्रवार तेज हवाओं के साथ हुयी बरसात ने तो आम बागवानों की चिंता बढ़ा दी है। तेज हवाओं के साथ हुयी बरसात से पेडों मे खिल रहा बौर टूटकर नीचे गिर गया। जिससे बागवानों को भारी नुकसान हुआ है। मुख्यालय से 40 किलोमीटर दूर पश्चिम मे स्थित ग्राम नई बस्ती निवासी बागवान हरीराम (45 वर्ष) बताते हैं, ‘’इस बार उनके बागों मे मात्र 30 प्रतिशत ही पेड़ों मे बौर आया है।

तेज हवाओं के साथ बारिश से पेड़ों मे खिल रहा बौर नीचे काफी मात्रा मे गिर गया है।‘’ग्राम गढ़ी निवासी रमेशचन्द्र (40 वर्ष) कहते हैं, ‘’उनके बागों मे इस बार 40 प्रतिशत पेड़ों मे बौर आया है। लेकिन इस बारिश से खिल रहे बौर को काफी नुकसान हुआ है। अगर मौसम ऐसा ही रहा तो बागवानों को भारी नुकसान का सामना देखना पड़ेगा। ‘’

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top