ग्रामीण महिलाएं बनेंगी अपने गाँव की आवाज़

ग्रामीण महिलाएं बनेंगी अपने गाँव की आवाज़पत्रकारिता की बारीकियां सीखतीं ग्रामीण महिलाएं।

प्रतापगढ़। गाँव कनेक्शन की पत्रकारिता वर्कशॉप में महिला समाख्या प्रतापगढ़ की महिलाओं को समाचार लिखने की प्रशिक्षण दिया गया। इस कार्यशाला में जिले के पांच ब्लॉको की समन्वयक महिलाओं के अलावा महिला सामाख्या जिला कार्यक्रम समन्यवक सरोज ने भी हिस्सा लिया।

कार्यशाला को संस्था की महिलाओं के लिए फायदेमंद बताते हुए जिला कार्यक्रम समन्यवक सरोज ने बताया, "गाँव कनेक्शन ग्रामीण महिलाओं की आवाज बन रहा है, महिलाओं ने खबर लिखने की पूरी जानकारी ली, जो इनके लिये फ़ायदेमन्द साबित होगी।"

ये भी पढ़ें- महिला समाख्या की एक सार्थक पहल, उत्तर प्रदेश के 14 जिलों में चलती हैं 36 नारी अदालतें

गांव कनेक्शन द्वारा आयोजित की गई एकदिवसीय पत्रकारिता कार्यशाला में महिला समाख्या की कार्यकत्रियों को वीडियो गाइड के माध्यम खबर लिखने की जानकारी दी गई।

वर्कशॉप में महिलाओं को जर्नलिज्म की क्लास दी गई और बताया गया कि खबर कैसे लिखनी है। महिलाओं ने संकल्प लिया और कहा कि वह अब अपने क्षेत्र की समस्याओं को उजागर करेंगी।

Share it
Top