तेजी से बढ़ी है संगीत सोम की संपत्ति लेकिन घट गई डिग्री

तेजी से बढ़ी है संगीत सोम की संपत्ति    लेकिन घट गई डिग्रीसंगीत सोम के 2009, 12. और 2017 में दाखिल शपथपत्र।

बसंत कुमार, स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

मेरठ। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक और प्रत्याशी संगीत सोम जितने चर्चित हैं उतना विवादों से उनका नाता भी रहा है। इस बार चर्चा में हैं अपनी संपत्ति को लेकर पांच सालों में उनकी संपत्ति दोगुने से ज्यादा हो गई है। हालांकि उनकी डिग्री पिछले कुछ वर्षों में जरुर घट गई है। चुनाव आयोग में दाखिल शपथपत्र के मुताबिक 2009 में सोम स्नातक पास थे तो 2017 में वो 12वीं पास ही बचे हैं।

सरधना से बीजेपी प्रत्याशी संगीत सोम की विधानसभा चुनाव के लिए नामांकन पत्र में लगाए गए शपथपत्र और पूर्व के चुनावों के दौरान जमा किए गए, शपथपत्र की डिग्री में अंतर पाया गया है। सोम 2009 के लोकसभा चुनाव समाजवादी पार्टी से मुजफ्फरनगर लोकसभा क्षेत्र से चुनाव लड़े थे। उस दौरान उन्होंने जो शपथपत्र दिया था उसके मुताबिक वो केके जैन डिग्री कॉलेज से स्नातक हैं। इस चुनाव में संगीत सोम को हार का सामना करना पड़ा था। 2012 में मेरठ के सरधाना विधानसभा क्षेत्र से संगीत सोम भाजपा के उम्मीदवार के तौर पर उतरे थे और उनकी जीत हुई थी। वहीं 2012 के विधानसभा चुनाव में संगीत सोम द्वारा जमा किए गए एफिडेविट में अपनी शिक्षा के के जैन इंटर कॉलेज से 12 वीं बताई गयी थी।

एक बार फिर संगीत सोम भाजपा की टिकट पर सरधाना से ही मैदान में है। इसबार भी जमा किए गए एफिडेविट में भी उनकी शिक्षा के के जैन कॉलेज से 12वीं ही बताई गयी है।

गाँव कनेक्शन के पास संगीत सोम द्वारा 2017 विधानसभा चुनाव में जमा किए दए शपथपत्र की कॉपी है। वहीं लोकसभा चुनाव 2009 और विधानसभा चुनाव 2012 में दी गई जानकरी एडीआर वेबसाइट से ली गई है|

संपत्ति में जोरदार इजाफा

लोकसभा चुनाव 2009 में संगीत सोम ने अपनी संपत्ति 1 करोड़ 64 लाख बताया था, लेकिन तीन साल बाद 2012 के विधानसभा चुनाव में दायर किए गए शपथपत्र में उनकी संपत्ति 20 करोड़ 22 लाख बताई गयी थी। इसबार जमा किए गए एफिडेविट में उनकी सम्पति दोगुनी हो गई है। उनकी संपत्ति अब 41 करोड़ 22 लाख रुपए है।

उम्र का भी अंतर

संगीत सोम की सिर्फ डिग्रियों में ही अंतर नहीं बल्कि उनकी उम्र में भी अंतर है। सोम द्वारा 2009 के लोकसभा चुनाव जमा किए गए एफिडेविट में अपनी उम्र 29 वर्ष बताई है। वहीं 2012 के विधानसभा में उनकी उम्र 32 साल होनी चाहिए तो 33 साल दर्ज है। इसबार के दर्ज शपथपत्र में उन्होंने अपनी उम्र 37 साल बताई। इसका मतलब कि पांच साल में संगीत सोम की उम्र मात्र चार साल ही बढ़ी।

सात मामलों में है आरोपी

संगीत सोम के सम्पति के साथ-साथ उनपर मुकदमों की संख्या भी बढ़ी है। 2009 में उनपर एक मामला दर्ज था, लेकिन 2012 में यह संख्या 3 हो गयी और अब उनपर 7 मामले दर्ज है, जिसमें एक में दोषमुक्त हो चुके हैं। हमेशा अपने भाषण से विवादों में रहने वाले संगीत सोम ने हाल ही मेरठ की एक रैली में यूपी विधानसभा चुनाव को भारत-पाकिस्तान के बीच के जंग जैसा बताया था। उनपर आचार संहिता तोड़ने का भी आरोप लगा है।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

Share it
Top