31दिसंबर तक एक लाख शौचालय बनाने का रखा लक्ष्य

Shrivats AwasthiShrivats Awasthi   1 April 2017 10:43 AM GMT

31दिसंबर तक एक लाख शौचालय बनाने का रखा लक्ष्यजिले में 31 दिसंबर तक एक लाख शौचालय का निर्माण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

स्वयं कम्यूनिटी जर्नलिस्ट

उन्नाव। स्वच्छ भारत मिशन के तहत जिले में 31 दिसंबर तक एक लाख शौचालय का निर्माण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। बेस लाइन सर्वे के तहत स्वीकृति पत्र जारी कर शौचालय का निर्माण कराया जाएगा। वहीं बेस लाइन सर्वे में पाये गये पात्रों को आधार नम्बर व मोबाइल नम्बर से भी लिंक किया जाए।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) और गंगा एक्शन प्लान की समीक्षा बैठक करते हुए मुख्य विकास अधिकारी संजीव कुमार सिंह ने कहा कि शौचालय निर्माण में इस बात का ध्यान रखा जाए कि लक्षित समूह पात्रता की श्रेणी में होने चाहिए। इसके साथ ही राज मिस्त्रियों का प्रशिक्षण भी दिलाया जाए जिससे जो भी कार्य हो वह गुणवत्तापरक रहें। शौचालय की सामग्री क्रय करने की व्यवस्था लोकल स्तर पर नियमानुसार की जाय।

उन्होंने बताया कि एक-एक शौचालय का सत्यापन कराया जायेगा। मुख्य विकास अधिकारी ने जोर देते हुये कहा कि निर्मित शौचालयो की फोटो अपलोडिंग व एम आई एस फीडिंग अनिवार्य रूप से करायी जाए। प्रशासन द्वारा स्वच्छता प्लान को वेबसाइट पर अपलोड करा दिया गया है।

उन्होंने यह भी कहा कि आज के समय में महिलाआें को स्वच्छ भारत मिशन के प्रति और अधिक जागरूक किये जाने की आवश्यकता है। लोगों को इस अभियान के प्रति जागरुक किया जा सके इसके लिए सीडीआे ने स्वच्छता रथ चलाने के भी निर्देश दिए। मुख्य विकास अधिकारी ने गंगा के किनारे के गांवो मे बनवाये जा रहे शौचालयों की भी समीक्षा की।

समीक्षा के दौरान उन्होंने जहां कहीं भी एमआईएस फीडिंग नही पाई उसे तत्काल कराने के निर्देश दिए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि लोगो को जागरूक किया जाय कि वह शौचालयों का प्रयोग अनिवार्य रूप से करें। मुख्य विकास अधिकारी ने दूलीखेड़ा, बक्सर, सेढ़ूपुर, संग्रामपुर, जैदपुर, जाजामऊ एेहतमाली, रूस्तमपुर, गड़ाई, कटरी गदनपुर आहार, मेला आलमशाह, बेहटाकक्ष, भिखारीपुर पतसिया, सिरधरपुर एेहतमाली, रूपपुर चन्देला आदि गांवो मे बनवाये जा रहे शौचालयों के बारे मे विस्तार से जानकारी हासिल की।

बैठक मे जिला विकास अधिकारी नरेश बाबू सविता, जिला पंचायत राज अधिकारी सर्वेश पाण्डेय, जिला समन्वय अभय सिंह, खण्ड विकास अधिकारी, सहायक विकास अधिकारी (पंचायत),खण्ड प्रेरक, गंगा के किनारे के चयनित ग्राम पंचायतो के प्रधान उपस्थित रहें।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top