टीकारण अभियान चलाकर गाय और बछड़ों की बीमारियों का किया जा रहा उपचार

टीकारण अभियान चलाकर गाय और बछड़ों की बीमारियों का किया जा रहा उपचारपशु पालन विभाग द्वारा खुरपका और मुहंपका का टीकारण अभियान चलाया जा रहा है।

इश्त्याक खान ,स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

औरैया। जिले में पशु पालन विभाग द्वारा खुरपका और मुहंपका का टीकारण अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान में गाँव कनेक्शन फाउंडेशन भी पशुओं के टीकाकरण में अहम भूमिका निभा रहा है। शहर की सुरक्षित और सुविधा जनक गोपाल गौशाला में फाउंडेशन के द्वारा टीकाकरण कराया गया।

गाँव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

जिला मुख्यालय से 10 किलोमीटर और शहर के बीचो-बीच गोपाल इंटर कालेज के संयुक्त भवन में गोपाल गौशाला का संचालन होता है। गौशाला में गाय और बछडो की संख्या 44 है। बुधवार को गायों और बछड़ों के टीकाकरण के लिए चिकित्सकों की टीम फाउंडेशन के साथ गौशाला पहुंची। जहां सुबह 9 बजे से लेकर 12 बजे तक टीकाकरण किया गया।

चार माह से कम आयु के बछडों और चार माह के गर्भ से गाय का टीकाकरण नहीं किया गया। इसी के साथ हाल में बच्चे दी हुई गायो का टीकाकरण नहीं किया गया। गौशाला के मैनेजर ने बताया कि गौशाला का संचालन कमेटी के द्वारा किया जाता है। स्कूल में पढ़ने वाले प्रत्येक छात्र पर गाय के लिए 20 रूपए लिए जाते है। इससे दाना, चारा और पानी की व्यवस्था की जाती है।

पशु धन प्रसार अधिकारी अंकित कुमार शुक्ला ने गौशाला के ग्वालों को बताया कि मुंहपका रोग से पशु के मुंह में छाले, लार डारना, खाना छोड़ देना, बुखार आ जाना, जानवर कमजोर हो जाने जैसे लक्षण दिखाई देते है। इसके अलावा खुरपका में पैरों में दर्द, घाव हो जाना इससे पशु की ग्रोथ रूक जाती है। खुरपका दो खुर वाले पशुओं में होता है। घोडा को छोडकर प्रत्येक पशु को खुरपका का टीका लगाया जाता है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top