पच्चीस गाँव के लोगों का रास्ता है लकड़ी की पुलिया

पच्चीस गाँव के लोगों का रास्ता है लकड़ी की पुलियाइस रास्ते पर लगभग 25 गाँवों के लोगो का रास्ता है।

अमरकांत, स्वयं कम्यूनिटी जर्नलिस्ट

बरेली। जिला मुख्यालय से लगभग 15 किलोमीटर दूर तहसील व ब्लॉक नवाबगंज के गाँव पनुआ डंडिया का एक रास्ता सेंथल टांडा से नवाबगंज रोड जदौपुर तक का नहर से होकर जाता है। इस रास्ते पर लगभग 25 गाँवों के लोगो का रास्ता है। तहसील, ब्लॉक, थाना नवाबगंज तक जाने के लिए लोगों को इस रास्ते से निकलना होता है। इस रास्ते पर डंडिया के पूरबी साईंफन पर वर्ष के 9 महीने जल भराव रहता है, जिससे निकलने वाले लोगों को दिक्कत का सामना करना होता है।

गाँव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

कुंदनलाल (70 वर्ष) बताते हैं कि नहर पर लकड़ी का पुल बनाने के लिए गाँव के लोगों को हमेशा डंडे का सहारा लेना पड़ता है। इस लकड़ी के पुल से 300 से 400 साइकिल और मोटर साइकिल प्रतिदिन निकलती हैं।

वहीं, इसी गाँव के हरीश कुमार (45 वर्ष) कहते हैं, ‘’हम क्षेत्रीय विधायक भगवत सरन गंगवार सांसद व केन्द्रीय मंत्री संतोष गंगवार से कई वर्षों से बात करते चले आ रहे हैं, लेकिन अभी भी समस्या वैसी ही है। जिले के पूर्व में रहे कई जिलाधिकारी भी वहाँ तक पहुंचे, लेकिन अभी तक प्रशासन की ओर से भी कोई सहायता नहीं मिल पाई है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top