कानपुर देहात में मतदाताओं को जागरुक करने के लिए बनाया गया तीन किलोमीटर लंबा बैनर, गिनीज बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज़

Neetu SinghNeetu Singh   16 Feb 2017 8:38 PM GMT

कानपुर देहात में मतदाताओं को जागरुक करने के लिए बनाया गया तीन किलोमीटर लंबा बैनर, गिनीज बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज़कानपुर देहात में बैनर के साथ आम लोग।

माती (कानपुर देहात) । विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण के मतदान के लिए कानपुर देहात ने मतदाता जागरूकता के लिए 3793 लोगों ने एक साथ मिलकर तीन किलोमीटर लम्बे और चार फुट चौड़े बैनर को 100 मीटर तक लेकर चले। अभी तक ये रिकार्ड यूएई के नाम था। विश्व का ये रिकार्ड आज कानपुर देहात ने जिला अधिकारी की अध्यक्षता में मिलकर 16 फरवरी 2017 को गिनीज वर्ल्ड रिकार्ड में जिले का नाम दर्ज करा लिया ।

मतदाता जागरूकता के लिए सबसे बड़ी तादाद में अब तक विश्व में यूएई ने 30 नवम्बर 2014 को 2139 लोगों के साथ अपने नाम किया था। कानपुर देहात जिला अधिकारी कुमार रविकांत सिंह ने बताया, “जिले का हर कोई व्यक्ति वोट दे ये हमारी कोशिश है, इसके लिए हम तमाम मतदाता जागरूकता अभियान चला चुके हैं, आज पूरे जिले के साथियों के सहयोग से हमने गिनीज वर्ल्ड रिकार्ड में जिले का नाम दर्ज करवा लिया है ये जिले के लिए गौरव की बात है, उद्देश्य यही है कि 19 फरवरी को तीसरे चरण के मतदान में सबसे ज्यादा वोट जिले के नाम दर्ज हों ।“

जिले का हर कोई व्यक्ति वोट दे ये हमारी कोशिश है, इसके लिए हम तमाम मतदाता जागरूकता अभियान चला चुके हैं, आज पूरे जिले के साथियों के सहयोग से हमने गिनीज वर्ल्ड रिकार्ड में जिले का नाम दर्ज करवा लिया है ये जिले के लिए गौरव की बात है।
कुमार रविकांत सिंह, जिलाधिकारी, कानपुर देहात

गिनीज बुक ऑफ रिकार्ड की टीम से सर्टिफिकेट ग्रहण करते डीएम कुमार रविकांत सिंह (कोटपैंट में)

इस मतदाता रैली में जिला प्रशासन, शिक्षक, छात्र-छात्राएं, आशा बहु-आंगनबाडी कार्यकत्री, आसपास के तमाम स्थानीय लोगों ने तीन किलोमीटर लम्बे मतदाता बैनर को लेकर हजारों लोग लेकर चले । अपर जिला अधिकारी (वित्त) अमर पाल सिंह बताते हैं, “ये रिकॉर्ड तोडना बिना टीम वर्क के संभव नहीं था, इस लम्बे बैनर और लोगों को एकजुट होने के लिए एक सप्ताह का समय लगा है, खुशी हमे तब होगी जब सबसे ज्यादा वोटो का प्रतिशत जिले के नाम हो ।

“जिले में पहली बार ये मतदाता जागरूकता के लिए नाम दर्ज हुआ है, हम ग्रामीण स्तर पर अपने-अपने स्कूल और घर-घर जाकर निष्पक्ष्य वोट देने के लिए लोगों को जागरूक कर रहे हैं, बच्चों को भी प्रेरित कर रहें हैं अपने बुजुर्ग बाबा-दादी को बूथ केंद्र तक पकड़ कर ले जाएँ ।“ रैली में शामिल होने आये प्राथमिक विद्यालय सूरजपुर के प्रधानाध्यापक विनय शुक्ला ने कहा।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top