बिजौली: सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के कमरों से टपक रहा पानी

Gyanesh SharmaGyanesh Sharma   8 July 2017 11:48 AM GMT

बिजौली: सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के कमरों से टपक रहा पानीस्वास्थ्य केन्द्र में घूमते आवारा कुत्ते।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

बिजौली/अलीगढ़। जनपद मुख्यालय से लगभग 50 किमी दूर स्थित उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री सीबी गुप्ता के पैतृक गाँव बिजौली में बनाया गया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रखरखाव के अभाव में बदहाली के कगार पर पहुंच गया है।

बरसात होकर बंद भी हो जाती है मगर सीएचसी की छतों से पानी टपकना बंद नहीं होता। आलम यह है कि एक्स-रे मशीन सहित अन्य उपकरण भीग कर खराब हो रहे हैं। यह आलम तब है जब लाखों रुपए हर साल सीएचसी के रख रखाव, मरम्मत, रंगाई-पुताई के नाम पर खर्च हो रहे हैं। सीएचसी में शायद ही ऐसी कोई जगह बची होगी जहां मरीज सुरक्षित बैठ सके। अलीगढ़ की तहसील अतरौली के गाँव बिजौली के रहने वाले सीबी गुप्ता प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे हैं। यहां रोजाना सैकड़ों की संख्या में खादर इलाके से मरीज आते हैं, लेकिन उन्हें दवा देने के नाम पर खानापूर्ति की जा रही है।

ये भी पढ़ें- डेंगू फिर मार रहा है डंक, उत्तर प्रदेश में अब तक 90 मामले आए सामने, 2 की मौत

वार्डों में घूमते रहते हैं आवारा कुत्ते

मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देने के दावे तो खूब होते हैं पर दावों की हवा उस वक्त निकलती दिखती है जब स्वास्थ्य केंद्रों में आवारा कुत्ते वार्डों तक घूमते दिखते हैं। कुत्ते गंदगी तक बाहर से खींच कर अंदर ले आते हैं। नगला लोचन निवासी धर्मवीर सिंह (60 वर्ष) का कहना है, “सर्दी की दवा लेने आए हैं, लेकिन यहां देखकर लग रहा है कि बिल्डिंग को ही सर्दी हो गई है।

हर जगह से पानी टपक रहा है।” सिरसा निवासी रामढकेली (50 वर्ष) का कहना है, “हाथों में खुजली और नातिन को कान की दवा दिलवाने आईं हूं। अलग-अलग रोग हैं फिर भी दोनों को एक जैसी दवा देकर टरका दिया।”

ये भी पढ़ें- इनके प्रयोग से धान की फसल रहेगी निरोग

अधीक्षक डॉ. विनोद सिंह ने बताया उच्चाधिकारियों को अवगत करा दिया गया है। इंजीनियर मुआयना करने आ रहे हैं। वह एस्टीमेट तैयार करेंगे उसके बाद यहां काम शुरू होगा।

सीएमओ डॉ. एमएल अग्रवाल ने बताया छत से इस तरह पानी टपकना गंभीर है। सीएचसी अधीक्षक को मरम्मत के आदेश दिए हैं साथ ही एक्स-रे आदि मशीनों की सुरक्षा के इंतजाम करने को कहा है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top