फांसी लगाने से पहले महिला ने लिखा, ‘बच्चों मुझे माफ कर देना’

Shrivats AwasthiShrivats Awasthi   26 March 2017 5:16 PM GMT

फांसी लगाने से पहले महिला ने लिखा, ‘बच्चों मुझे माफ कर देना’फांसी का फंदा।

उन्नाव। शहर कोतवाली क्षेत्र के गांधी नगर मोहल्ला में रविवार सुबह एक महिला ने फांसी के फंदे पर झूल अपनी जान दे दी। आत्महत्या करने से पहले महिला ने एक सुसाइड नोट भी लिखा। जिसमें उसने बच्चों से ऐसे कदम के लिए माफ करने की बात लिखी है।

देश-दुनिया से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

महिला द्वारा लिखे गए सुसाइड नोट में यह भी लिखा गया है कि वह यह कदम किसी से परेशान होकर नहीं बल्कि खुद से परेशान होकर उठा रही है। महिला द्वारा आत्महत्या करने की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

गांधी नगर मोहल्ला में रहने वाली रानी सिंह उर्फ रामकली के पति राजेश कुमार की कई वर्षों पहले मौत हो गई थी। वह घर में बेटे अनुभव और बेटी ज्योती व प्रीती के साथ रहती थी। अनुभव ने बताया कि शनिवार रात मां के साथ कमरे में था। देर रात पढ़ाई करने के बाद वह सो गया। रविवार सुबह जब वह सोकर उठा तो उसने मां को फंदे से लटकता देखा। यह देखकर उसकी चीख निकल गई। शोर सुनते ही ज्योती व प्रीती भी मौके पर पहुंच गई।

जहां कमरे का दृश्य देखकर वह चिल्ला पड़ी। शोर शराबा सुनकर घर के अन्य सदस्य मौके पर पहुंच गए। जहां उन्होंने पुलिस को घटना की सूचना दी। रानी के बहनोई राजीव कुमार ने बताया कि कमरे से उन्हें एक सुसाइड नोट मिला था। जिसे उन्होंने पुलिस के सुपुर्द कर दिया है। सुसाइड नोट में रानी ने एेसा कदम उठाने के पीछे खुद को ही जिम्मेदार ठहराया है। बताया जा रहा है कि रानी के कमरे से जो सुसाइड नोट मिला है उसमें रानी ने लिखा है कि वह खुद से परेशान हो गई थी। जिसकी वजह से उन्होंने फांसी लगा ली।

रानी ने बच्चों से अपने इस कदम के लिए माफी मांगी है। बहनोई राजीव ने बताया कि रानी की बेटी ज्योती की शादी तय हो चुकी है। अगस्त माह में उसकी शादी होनी है। गांव में रानी के नाम पन्द्रह बीघा जमीन भी है। जमीन को लेकर आए दिन विवाद होता रहता था। घटना को लेकर सदर कोतवाली प्रभारी ने बताया कि परिजनों की आेर से अभी उन्हें कोई तहरीर नहीं मिली है। शव का पोस्टमार्टम कराया गया है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top