#स्वयंफेस्टिवल में बोले सिटी मजिस्ट्रेट-पहले गोल तय करें, फिर पढ़ाई

Manish MishraManish Mishra   4 Jan 2017 5:00 PM GMT

#स्वयंफेस्टिवल में बोले सिटी मजिस्ट्रेट-पहले गोल तय करें, फिर पढ़ाईकरियर काउंसिलिंग सेशन में भाग लेते गोण्डा के बच्चे।

स्वयं डेस्क/ हरीनारायण शुक्ला (46 वर्ष)

गोण्डा। गाँव कनेक्शन के स्वयं उत्सव का काफिला मंगलवार को राजकीय पालिटेक्निक कालेज पहुंचा। यहां आयोजित करियर काउंसलिंग व 100 डायल कार्यक्रम में मुख्य अतिथि प्रशिक्षु आईएएस आशीष ने कहा कि छात्र व छात्राएं पहले अपना गोल तय करें और इसके बाद प्रतियोगिता की तैयारी में जुटें। इससे पहले यूपी 100 व 1090 की जानकारी दी गई।

सैकड़ों बच्चों के बीच उन्होंने कहा कि छात्रों को पहले यह तय करना चाहिए कि वह कौन से क्षेत्र में जाना चाहते हैं और उनके अंदर किस क्षेत्र में जाने की दिलचस्पी है। व्यक्ति अपनी क्षमता बेहतर जानता है और अभ्यास से क्षमता में बढ़ोतरी भी होती है। पीसीएस अधिकारी डा अमरेश मौर्य ने कहा कि छात्र आठ घंटे की पढ़ाई करे और सिलेबस की हेडिंग पर जोर दे और बिंदुवार नोट तैयार करे। कोचिंग के साथ नेट की मदद लेकर पाठन सामग्री पर गौर करें। नौकरी सरल है और करियर चुनौतीपूर्ण है लेकिन गांव के बच्चे इस कार्य को साधने में सफल हो रहे हैं।

कार्यक्रम में मौजूद अधिकारीगण।

आग लगने पर तुरंत डायल करें 100 नंबर

यूपी पुलिस के कार्यक्रम में दारोगा मंजू यादव ने छात्राओं का बताया कि 100 नंबर तत्कालिक सेवा है जैसे एक्सीडेंट, आग, लूट, आगजनी। 1090 महिला हेल्प लाइन है जिसमें महिला का परिचय गोपनीय रखा जाता है। युवती की शिकायत महिला अधिकारी लखनऊ में नोट कर आरोपी को चेतावनी दी जाती है। न मानने पर उसके घर व रिश्तेदार को बताया जाता है और उसकी कारगुजारी बतायी जाती है। इसके बाद न मानने पर उसे जेल भेजा जाता है। पुलिस ट्यूटर की जानकारी दी गई। संजय पांडेय ने बाल अपराध रोकने की जानकारी दी। संचालन हरि नारायण शुक्ल ने किया। प्राध्यापक अर्जुन सिंह ने कार्यक्रम को सराहा।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top