Top

चार एक्सईएन के खिलाफ कार्रवाई की मांग की

चार एक्सईएन के खिलाफ कार्रवाई की मांग कीडीएम, कर्ण सिंह चौहान

ऋषभ मिश्रा, कम्यूनिटी जर्नलिस्ट

शाहजहांपुर। आचार संहिता से पहले शुरू कराए गए कार्यों का निर्माण की समीक्षा के लिए बुलाई गई बैठक से चार विभागों के एक्सईएन नदारद रहे। डीएम कर्ण सिंह चौहान ने इसके खिलाफ शासन से कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने कहा है कि कोई भी अधिकारी बिना अनुमति जिला नहीं छोड़ेगा। जिस विभाग की बैठक बुलाई जाएगी उसके ही अधिकारी आएंगे अगर किसी ने किसी दूसरे को भेजा तो खैर नहीं।

विकास भवन सभागार में हुई बैठक में आवास विकास परिषद बरेली लघु सिंचाई, ग्रामीण अभियंत्रण व बिजली विभाग के एक्सईएन मौजूद नहीं मिले। जिस पर डीएम ने इनके खिलाफ शासन में कार्रवाई की संस्तुति की। ईओ नगर पालिका से कहा कि अगर बिना उनकी अनुमति जिला छोड़ा तो कानूनी कार्रवाई करेंगे।

डीएम कर्ण सिंह चौहान बताते हैं कि 31 मार्च से पहले तक काम पूरा करा लें। गुणवत्ता और मानक का ध्यान रखा जाए। निर्माण कार्य में लगी संस्थाओं से कहा कि काम कराने के पूर्व राजस्व विभाग से यह सुनिश्चित कर लेंगे कि संबंधित विभाग की तो नहीं है। सरकारी भवनों की दीवारों पर पोस्टर व अन्य अपनी प्रचार सामग्री लगाने वालों के खिलाफ लोक संरक्षण अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिए। अपनी प्रचार सामग्री लगाने वालों के खिलाफ लोक संरक्षण अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिए।

डीएम ने कहा कि कुछ अधिकारी अपने नियंत्रण अधिकारियों से छुट्टी लेकर जा रहे हैं, जो गलत है। चुनाव आयोग के आदेश के तहत अगर कोई भी बिना उन की अनुमति मुख्यालय से बाहर गया तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

कार्यो की जाँच करेगी तकनीकी टीम

डीएम ने कहा कि जिला स्तर पर एक तकनीकी टीम बनाई जाएगी, जो कराए गए निर्माण कार्यों की तकनीकी जांच करेगी। इसके बाद ही कार्य हैंडओवर होगा। गुणवत्ता में कमी पाए जाने पर संबंधित संस्था पर कार्रवाई होगी।

मार्च से जमा करें अपने बिल

डीएम ने कहा कि जो भी अधिकारी या कर्मचारी सरकारी आवासों में रह रहे हैं। वे सभी अपने कार्यालय के बिल मार्च से पूर्व जमा कर दें, अगर कहीं धनराशि नहीं है तो इसके लिए उन्हें पत्र भेजें।

साठा न लगाने के लिए करें प्रेरित

डीएम ने कृषि विभाग से संबंधित अधिकारियों से कहा कि साठा धान न बोने के लिए किसानों को जागरुक करें। इस दौरान सीडीओ टीके शिबू, एडीएम वित्त सर्वेश कुमार, एडीएम प्रशासन जितेंद्र कुमार शर्मा समेत संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

Next Story

More Stories


© 2019 All rights reserved.