सूर्यमित्रों के हवाले होगी सोलर यंत्रों के मरम्मत की ज़िम्मेदारी

सूर्यमित्रों के हवाले होगी सोलर यंत्रों के मरम्मत की ज़िम्मेदारीgaon connection, गाँव कनेक्शन

स्वाती शुक्ला

लखनऊ। सोलर यंत्रों की देखरेख और उसकी तकनीकी ख़ामियों को दूर करने का काम प्रदेश सरकार ने सूर्यमित्रों को सौंप दिया है। प्रदेश में सोलर यंत्रों को बढ़ावा देने और सोलर यंत्रों की देखरेख के लिए यूपीनेडा द्वारा ये पहल की गई है।

यूपीनेडा नब्बे दिन का निशुल्क प्रशिक्षण देकर सूर्यमित्रों की टीम तैयार करेगी। प्रशिक्षण पाने वाले सूर्यमित्र शिकायत मिलने पर सोलर यंत्रों की मरम्मत का काम करेंगे।

प्रदेश में सोलर यंत्रों के प्रयोग को बढ़ावा दिया जा रहा है। शासन द्वारा किसानों को सिंचाई के लिए सोलर पंप उपलब्ध कराए जा रहे हैं वहीं रोशनी के लिए सड़कों पर सोलर स्ट्रीट लाइटें भी लगाई जा रही हैं। सोलर यंत्रों के बढ़ते प्रयोग के बीच उनकी मरम्मत का काम भी तेजी से बढ़ रहा है। जिसको ध्यान में रखते हुए नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय और राषअट्रीय सौर ऊर्जा संस्थान की मदद से युवाओं को सोलर यंत्रों की मरम्मत का प्रशिक्षण दिया जाएगा।

परियोजना अधिकारी यूपीनेडा फिरोज़ अहमद ने बताया कि सूर्यमित्र सृजन विषयक के नाम से सूर्यमित्र को 600 घंटे का प्रशिक्षण दिया जाएगा। यह प्रशिक्षण पूरी तरह से निशुल्क रहेगा। उन्होंने बताया कि 12वीं पास के साथ आईटीआई इंजीनियर डिप्लोमा धारक इसके लिए आवेदन कर सकेंगे। यह प्रशिक्षण तीन महीने तक दिया जाएगा। प्रशिक्षण का काम 1 मार्च से शुरु किया जाएगा।

Tags:    India 
Share it
Top