Swati Shukla

Swati Shukla

Swayam Desk


  • ये इश्क़ नहीं आसान ... 

    स्वयं प्रोजेक्ट डेस्कलखनऊ। पिछले 15 वर्षों में पुरानी मानसिकता और रूढ़ीवादिता के कारण प्यार के लिए लाखों लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी, जिनमें से आत्महत्या भी शामिल हैं।जिला मुख्यालय से पांच किलोमीटर दूर त्रिवेणी नगर की रहने वाले ब्यूटी मिश्रा (40 वर्ष) बताती हैं, 'मेरी बहन बहुत सुन्दर थी। वो एक...

  • यहां किन्नरों ने भी मनाया करवा चौथ

    लखनऊ। किन्नरों ने भी इस बार करवा चौथ का व्रत किया लेकिन अपने पतियों के लिए नहीं बल्कि गुरु के लिए। पूजा की सारी रस्में निभाई गईं। निर्जला संकल्प, साज श्रृंगार, पूजन सामग्री, चंद्रदर्शन और गहनों का प्रेम इनके व्रत में भी ये सबकुछ दिखा। चाहे हिंदू हों या मुस्लिम व्रत सबने किया।किन्नर रौनक सिंह (30...

  • विश्व जनसंख्या दिवस विशेष: महिलाओं की ज़िंदगी से खेल रही गूगल वाली दाई

    ''गर्भपात महिलाओं का अधिकार है लेकिन वो कानूनी नियमों के तहत सही डॉक्टरों की देखरेख में ही होना चाहिए। इन दवाओँ के इस्तेमाल में उतना ही एहतियात बरतना होती, जितना कोई मिसाइल छोड़ने में।'लखनऊ/ मेरठ। जब आप ये ख़बर पढ़ रहे होंगे भारत की जनसंख्या 1 अरब 34 करोड़ के आंकड़े से कहीं आगे जा चुकी होगी।...

  • ‘बलात्कार पीड़िताओं के लिए कौन सा समाज, कैसे रिश्तेदार, कैसा परिवार?’ 

    लखनऊ। 'मेरे पिता ने मेरे साथ बलात्कार किया गया था, उसके बाद मैं घर छोड़ कर नारी बंदी गृह में रहने लगी। वहां कभी कोई मुझसे मिलने नहीं आया जबकि मेरे बहुत से रिश्तेदार हैं। मेरे सगे मामा की बेटी की शादी की तारीख मुझे याद थी और यह उम्मीद थी कि मामा अपनी बेटी की शादी में जरूर मुझे लेने आएंगे पर कोई नहीं...

  • राजधानी में रैंप पर जलवा बिखेरेंगे किन्नर

    स्वयं प्रोजेक्ट डेस्कलखनऊ। अभी तक आपने फैशन शो तो बहुत से देखे होंगे, लेकिन तीन अगस्त को लखनऊ में होने वाला फैशन शो कुछ खास है क्योंकि इस फैशन शो में किन्नर भी हिस्सा लेंगे। इसमें फैजाबाद, लखनऊ, कानपुर, मुंबई जैसे बड़े शहरों के किन्नर भाग लेंगे।किन्नर इस समाज का हिस्सा हैं, लेकिन उन्हें हमेशा इस...

  • रोजगारपरक प्रशिक्षण के जरिए 70 लाख युवाओं को रोजगार देगी योगी सरकार

    लखनऊ। प्रदेश सरकार अगले पांच साल में 70 लाख रोजगारों का सृजन करेगी। साथ ही रोजगारपरक प्रशिक्षणों के जरिये सेवायोजना की उम्र वाले सभी युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराए जाएंगे। ऐसे युवाओं की संख्या प्रदेश में कुल आबादी का 50 फीसदी है। ये बात शनिवार को सीएम योगी ने कही। वे केंद्र सरकार की कौशल विकास योजना...

  • ख़बर का असरः बुज़ुर्ग सियाराम को मिलेगी उनकी ज़मीन

    लखनऊ। अपनी जमीन और घर बचाने के लिए दर-दर भटक रहे बुजुर्ग सियाराम को इंसाफ की उम्मीद जगी है। एसडीएम सरोजनीनगर ने सियाराम को दो दिन के अंदर कब्जा मुक्त कराने का आश्वासन दिया है। गाँव कनेक्शन ने इस सियाराम की समस्या को प्रमुखता से प्रकाशित किया था।पिछले कई दिनों से इंसाफ के लिए भटक रहे बुजुर्ग सियाराम...

  • लखनऊ के इन गांवों के बहुरेंगे दिन , करीब 50 हजार की आबादी को होगा फायदा

    स्वयं प्रोजेक्ट डेस्कलखनऊ। केंद्र सरकार की श्यामा प्रसाद मुखर्जी रुर्बन योजना के तहत गाँवों का विकास शहरों की तर्ज पर किया जाएगा। लखनऊ जिले में सबसे बड़ी ग्राम पंचायत और उसके आसपास रहने वाली 25 से 50 हजार की आबादी को इस योजना का लाभ मिलेगा।अपर आयुक्त मनरेगा एसके चन्दौल बताते हैं, “इस योजना में लगभग...

  • सीएम योगी की उम्मीदों पर खरे उतरेंगे प्राइमरी स्कूल ?

    स्वयं प्रोजेक्ट डेस्कलखनऊ। प्रदेश में गाँव-गाँव और शहरी क्षेत्रों में बच्चों में शिक्षा की ललक जगाने और उन्हें स्कूल तक लाने के लिए ‘स्कूल चलो अभियान’ शुरु हो चुका है। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि सरकारी स्कूलों के बच्चों को एक महीने में ड्रेस, जूते बैग सब मिल जाने चाहिए और हर बच्चा स्कूल भी पहुंचे।...

  • भू-माफिया पर सरकार ने कसा शिंकजा 

    स्वयं प्रोजेक्ट डेस्कलखनऊ। भाजपा ने सत्ता में आने से पहले अपने घोषणा पत्र में कहा था कि सरकारी जमीनों को अवैध कब्जों से मुक्त कराएगी। अब जब उसकी सरकार बन गई है तो उसने भूमाफिया पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एंटी भूमाफिया टास्क फोर्स गठित कर चुके हैं।सरकार की मानें तो...

  • GST : बीएमडब्ल्यू से चलने वाले व्यक्ति और किसानों पर एक जैसा कर 

    लखनऊ। जीएसटी काउंसिल ने किसानों को केवल बीज खरीदने पर अतिरिक्त टैक्स देने से राहत दी है। बीज पर किसी भी प्रकार का कोई तरह टैक्स नहीं लगाया गया है। लेकिन किसान को खेती करने के लिए और कई तरह अन्य वस्तुएं भी चाहिए होती हैं, जिन्हें जीएसटी काउंसिल ने 12 से 28 फीसदी टैक्स स्लैब में रखा है। बीएमडब्ल्यू...

  • सुरक्षा के डर से लड़कियों की कम उम्र में कर देते हैं शादी 

    स्वयं प्रोजेक्ट डेस्कलखनऊ। सरकार की लाख कोशिशों के बावजूद बाल विवाह जैसी कुरीतियां हमारे समाज से दूर नहीं हो रहीं हैं। कम उम्र में विवाह के बाद शारीरिक और मानसिक विकास नहीं हो पाता है। यह गैरकानूनी भी है। कम उम्र में विवाह करने से लड़कियों में शारीरिक क्षमता पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है। गाँवों में...

Share it
Top