17 गाँवों को जोड़ने वाले संपर्क मार्ग पर नहीं जाना चाहते ग्रामीण

17 गाँवों को जोड़ने वाले संपर्क मार्ग पर नहीं जाना चाहते ग्रामीणपीडब्लूडी की मदद से बनवाई गई सड़क के दोनों तरफ तीन फुट के गड्ढे हो चुके हैं।

लोकेश मंडल शुक्ला- कम्यूनिटी जर्नलिस्ट

रायबरेली। कसरावां-कुंडोली संपर्क मार्ग फले ही 17 गाँवों से गुज़रता हो मगर लोग अब शहर जाने के लिए इसका उपयोग कम करते हैं। सरकार के पीडब्लूडी विभाग की मदद से बनवाई गई इस सड़क की हालत इस कदर खस्ता हो चुकी है कि ही रोड के दोनो तरफ तीन फुट के गड्ढे हो चुके हैं।

रायबरेली जिले के बछरावां ब्लॉक से करीब पांच किमी. उत्तर दिसा में कसरावां-कुंडोली संपर्क मार्ग की स्थिति इतनी दयनीय हो चुकी है कि इस पर चलने वाले वाहनों के धसने का खतरा हरपल रहता है।

सड़क के बगल से शारदा सहायक नहर निकलती है और यह मार्ग 17 गाँवों को जोड़ता है। इस रोड पर इतने गहरे गड्ढे हैं कि पूरा का पूरा आदमी उस के अंदर घुस सकता है।
बच्चन सिंह (42 वर्ष), कुंडोली गाँव

कसरावां-कुंडोली संपर्क मार्ग पर रोज़ाना करीब तीन हज़ार से अधिक लोग इस सड़क से होकर गुज़रते हैं। इस रास्ते की खस्ता हालत की वजह से इस रास्ते से होकर गुज़रने वाले स्कूली वाहनों को इस मार्ग से ना जाकर करीब दो किलोमीटर घूम के शहर जाना पड़ता है। इसके अलावा रात बिरात इस रास्ते से गुज़रने वाले साइकिल और पैदल चलने वालों को बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ता है।

ग्रामीणों के अनुसार इस सड़क की मरम्मत करीब 2 साल पहले हुई थी और उसी समय ठेकेदार ने इसे अच्छी निर्माण सामग्री से नहीं बनवाया था। सबसे मज़े की बात यह है कि सड़क की इस दशा के बारे की ग्राम प्रधान को भी कोई आपत्ति नहीं है और उन्होंने ने इस बारे में किसी भी तरह की बात करनी सही नहीं समझी।

कसरावां गाँव के बृजबिहारी लाल (47 वर्ष) बताते हैं कि बारिश की वजह से रोड फट गई है। इसपर कभी भी दुर्घटना हो सकती है इसलिए इसे जल्द से जल्द बनवा देना चाहिए।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top