देसी फार्मूला वन रेस देखी है आपने, और जब बैलगाड़ियां दौड़ पड़ीं...

रायबरेली। जनपद के हरचंदरपुर ब्लाक के मदन टूसी गाँव में मंगलवार को बैलगाड़ी दौड़ प्रतियोगिता हुयी। इस प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए प्रदेश के विभिन्न जिलों के लोग अपने बैलों के साथ पहुंचे थे। प्रतियोगिता में करीब 100 बैलों की जोड़ी ने भाग लिया। इस दौरान दर्शकों में गजब का उत्साह देखने को मिला।

पिछले पांच साल से इस प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें जिले साथ-साथ अन्य जिलों के बैलगाड़ी के शौकीन लोग भाग लेने आते हैं। पुरानी लोक परंपराएं धीरे-धीरे खत्म होती जा रही हैं। इन्हीं परपंराओं को जीवित रखने के लिए यह आयोजन किया जाता है।
रिंकू भदौरिया, प्रतियोगिता आयोजक

रायबरेली के मदन टूसी गाँव में बैलगाड़ी दौड़ प्रतियोगिता देखने उमड़े दर्शक।

बैलगाड़ी प्रतियोगिता के वक्त हर कोई उत्साहित दिख राह था। लोगों में गजब की दीवानगी देखने को मिली। लग रहा था जैसे अभी मौका मिले और अभी सबको पछाड़ दे। सब के सब जोश मे दिख रहे थे। वहीं बैलों की एक से एक उम्दा नस्ल देखने को मिली। करीब 100से ज्यादा जोड़ी ने हिस्सा लिया। कुल 10 राउंड हुए।

रायबरेली के मदन टूसी गाँव में बैलगाड़ी प्रतियोगिता देखने पहुंचे दर्शक।

संबंधित खबर : 'नेता नहीं किसान हूं' की तख्ती टांगकर बैलगाड़ी से विधानसभा पहुंचे बीजेपी विधायक जवाहर लाल राजपूत

अपने बैलों की जोड़ियों के साथ रायबरेली के पूरेखलावा गाँव से आए देवतीधीन (79 वर्ष) बताते हैं, "हमारे समय में बैलों को बड़ी संपत्ति के रूप में माना जाता था। मैं जब युवा था तो अपनी बैलगाड़ी को खूब दौड़ाता था। यह मेरा आज भी शौक है। इस प्रतियोगिता में मैं पांचवी बार हिस्सा ले रहा हूं। इसमें युवाओं ने भी खूब हिस्सा लिया। वहीं, जिले के पासीटोसी गाँव के प्रतिभागी सर्वेश सिंह (35 वर्ष) बताते हैं, "इस बार मैं अपने बैलों को लेकर आया हूं। प्रतियोगिता बहुत कड़ी है। दौड़ के दौरान सभी प्रतिभागियों में गजब की दीवानगी देखने को मिली। लग रहा था जैसे अभी मौका मिले और अभी सबको पछाड़ दें।

रायबरेली के मदन टूसी गाँव में बैलगाड़ी दौड़ प्रतियोगिता।

दस राउंड के बाद विजेताओं का फैसला

बैलगाड़ी प्रतियोगिता में कुल दस राउंड हुए। इनमें मोहनलालगंज के चंदीखेड़ा गाँव के सुरेश यादव (32 वर्ष) प्रथम स्थान पर रहे, जबकि दूसरा स्थान रायबरेली के पंडितनखेडा के शेरा यादव (26 वर्ष) और तीसरा स्थान रायबरेली के उतरावां से राम विलास (40 वर्ष) को मिला।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top