नहरों और माइनरों से अतिक्रमण हटवाने के लिए डीएम ने दिए आदेश  

नहरों और माइनरों से अतिक्रमण हटवाने के लिए डीएम ने दिए आदेश  सभागार में अधिकारियों के साथ बैठक करते जिलाधिकारी 

रहनुमा बेगम /स्वयं प्रोजेक्ट

औरैया। जिलाधिकारी ने दिबियापुर विधानसभा के विधायक और अपर जिलाधिकारी के साथ सिंचाई विभाग अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में होने वाली सिंचाई से सम्बंधित समस्याओं को दूर करना रहा। नहरों में होने वाले अतिक्रमणों पर गहरी नाराजगी जताते हुए अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई। निर्देश देते हुए कहा नहरों में अतिक्रमण कर पानी को रोका जा रहा है तथा नहर काटकर किसानों के खेत में पानी छोड़कर फसलों को बर्बाद किया जा रहा है ऐसी समस्याओं को तत्काल दूर किया जाए।

जिला मुख्यालय के सभागार कक्ष में जिलाधिकारी जय प्रकाश सगर ने विधायक लाखन सिंह राजपूत के साथ सिंचाई विभाग के अधिकारियों को सख्त हिदायत दी है।

ये भी पढ़ें- नहर की पटरी काटने वाले किसानों के खिलाफ दर्ज होगा मुकदमा: सिंचाई मंत्री

“अतिक्रमण हटाने के लिये पुलिस की सहायता ली जाये यदि कोई व्यवधान उत्पन्न करता है तो उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई जाए इसमें किसी प्रकार की कोताही ना बरती जाए।”
जिलाधिकारी जय प्रकाश सगर

डीएम ने कहा, “ सिंचाई विभाग के अधिकारियों द्वारा अन्य जिलों से नहरो मे पर्याप्त मात्रा में पानी ना आने की समस्या उठाई गई जिस पर जिलाधिकारी ने कहा कि अगर अन्य जिलों से पानी रोका जा रहा है तो तत्काल औरैया जनपद को पानी उपलब्ध कराने हेतु उच्च स्तर पर विभागीय कार्यवाही अमल में लाई जाए। समस्या हल न होने पर मुझे अवगत कराए।"

साथ ही कहा की सभी सरकारी ट्यूबवेल चालू अवस्था में रहने चाहिए इनमें आने वाली गड़बड़ी को तत्काल दूर किया जाए जो ट्रांसफार्मर ट्यूबवेल के लिए आवंटित है उसे किसी भी निजी क्षेत्र के उपयोग में न लाया जाए। अगर ट्यूबवेल चलाने में विद्युत आपूर्ति की कोई समस्या आती है तो तत्काल अधिशासी अभियन्ता को अवगत कराएं। विधायक लाखन सिंह राजपूत ने निर्देश दिए कि किसानों की समस्याओं को सर्वोच्च प्राथमिकता के आधार पर निस्तारित किया जाये तथा दिबियापुर में लगे सरकारी ट्यूबवेल की सूची उन्हें उपलब्ध कराएं।

ये भी पढ़ें- दबंगों ने रोका नहर का पानी, 10 हजार से अधिक किसान परेशान

जिलाधिकारी ने कड़े शब्दों मे कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार की ओर से स्पष्ट निर्देश है कि किसानों को किसी भी प्रकार की समस्या का सामना ना करना पड़े अतः जनपद के किसानों को किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ कड़ी कार्यवाही अमल मे लाई जाएगी।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top