स्टेडियम सुधरने से निखरेंगी ग्रामीण प्रतिभाएं

स्टेडियम सुधरने से निखरेंगी ग्रामीण प्रतिभाएंशाहजहांपुर के स्टेडियम की बदलेगी सूरत।

स्वयं प्राेजेक्ट डेस्क

शाहजहांपुर। जिला मुख्यालय से दस किलोमीटर दूर हथौड़ा गाँव में स्थित नायक जदुनाथ सिंह स्टेडियम में सरकारी स्कूलों की रैलियां और खेलकूद ही होते थे, यहाँ पर खेल के नाम प्रतियोगिता तो होती थी लेकिन कागजों पर, जिस कारण जिले की खेल प्रतिभाओं को आगे बढ़ने का मौका नहीं मिल पाता था।

स्टेडियम सुधारने के लिए जिला प्रशासन सक्रिय

इन सभी को देखते हुए जिला प्रशासन सक्रिय हो गया है। शाहजहांपुर जिले के स्टेडियम को सुधारने का काम चालू हो गया है। अब यहाँ से मंडल, स्टेट और नेशनल स्तर के खिलाड़ी तैयार होंगे। स्टेडियम में महज़ 135 बच्चे ही नियमित खेल अभ्यास के लिए पंजीकृत हैं। इस समय स्टेडियम में वॉलीबॉल, हॉंकी, फूटबॉल, ताईक्वान्डो के प्रशिक्षण की सविधा है, लेकिन इस प्रशिक्षण के लिए अभी नियमित कोच नहीं है संविदा पर इसको चलाया जा रहा है।

पहले स्टेडियम में पशुओं को चरने के लिए छोड़ देते थे

हथौड़ा गाँव के फुटबॉल खिलाड़ी आशुतोष सिंह (19 वर्ष) बताते है,"पहले यहाँ सिर्फ गाँव के बच्चे ही खेलते थे, न कोई कोच था और न ही कोई खेलने के सामान की सुविधा। पहले से यह काफी सुधर गया है।" स्टेडियम के सफाईकर्मी राजाराम बताते हैं," गाँव के लोग अपने पशुओं को चरने के लिए स्टेडियम में छोड़ देते थे, पर अब अंदर तो नहीं लेकिन स्टेडियम के बाहर पशुओं को बांध देते हैँ।"

ये काम कराये जाएंगे

  • हर महीने कोई न कोई खेल जरूर कराये जाएंगे।
  • जिले के सभी खेल संगठनों से इस काम में सहयोग लिया जाएगा।
  • स्टेडियम में आने वाले युवा खिलाड़ियों को मिलेगी यहाँ पर सभी तरह की सुविधाएं।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

Share it
Top