मेरठ में मरम्मत के नाम पर बिजली की कटौती  

Sundar ChandelSundar Chandel   30 Jun 2017 2:12 PM GMT

मेरठ में मरम्मत के नाम पर बिजली की कटौती  गर्मी के मौसम में बिजली लोगों के साथ खूब आंख मिचैली खेल रही है।

स्वयं प्रोजेक्ट डेस्क

मेरठ। गर्मी के मौसम में बिजली लोगों के साथ खूब आंख मिचैली खेल रही है। शहर से लेकर देहात तक रोजाना बिजली की अघोषित कटौती और लो वोल्टेज ने जीना मुहाल कर दिया है। शहर की कुछ कालोनियों में मेंटीनेंस के नाम पर कई-कई घंटे बिजली काट ली जाती है।

हस्तिनापुर ब्लाक के गाँव रानीनंगला, पाली, लतीफपुर, गणेशपुर आदि में रात और दिन में मिलाकर करीब 10 घंटे भी बिजली आपूर्ति नहीं हो पा रही है, जिसके चलते जहां एक और धान की रोपाई लेट हो रही है, वहीं गन्ना भी सूखने के कगार पर है। दिन में जितनी देर बिजली आती है। गणेशपुर निवासी बरण सिंह (43 वर्ष) बताते हैं, “पहले ही धान की रोपाई लेट हो चुकी है, जो रोपाई हुई भी है वो सूखने की कगार पर है।”

ये भी पढ़ें- इलाहाबाद में कूड़े से बिजली और खाद बनाने वाला प्लांट होगा शुरू

इन कालोनियों में भी कटौती

शहर क्षेत्र की जाकिर कालोनी, श्यामनगर, शिवशक्तिनगर कालोनी में भी दो-दो घंटे तक बिजली की कटौती हो रही है। जाकिर कालोनी निवासी सादाब (32 वर्ष) ने बताया, “ईद तक तो लाइट ठीक थी, लेकिन पिछले दो दिनों से तीन-तीन घंटे तक बिजली कटौती ने रुला कर रख दिया। बिजलीघर में शिकायत की तो मेंटीनेंस बताकर उन्हें टरका दिया गया।”

वेस्ट यूपी पावर कार्पोरेशन के एमडी अभिषेक प्रकाश ने बताया सरकार के आदेशों का पालन करने की कोशिश की जा रही है। कुछ जगह ओवरलोड या मेंटीनेंस के चलते यदि अघोषित कटौती हो रही है, तो संबंधित अधिकारी से बात शेडयूल ठीक कराया जाएगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top