बिजली की समस्या से इबादत में खलल 

Khadim Abbas RizviKhadim Abbas Rizvi   17 Jun 2017 11:16 PM GMT

बिजली की समस्या से इबादत में खलल प्रतीकात्मक फ़ोटो 

जौनपुर। पावर कॉरपोरेशन ने भले ही ग्रामीण इलाकों में खराब ट्रांसफॉर्मर को 48 घंटे के अंदर बदलने का दावा करके अपनी पीठ थपथपा ले, लेकिन हकीकत इससे कोसो दूर है। इसका ताजा उदाहरण जौनपुर के मछलीशहर तहसील के बंधवा बाजार में देखने को मिला है। यहां लगा तीन केवीए का ट्रांसफॉर्मर पिछले 15 दिनों से फुंका हुआ है, लेकिन अभी तक इसे बदला नहीं गया है। इससे लोगों को चिलचिलाती गर्मी में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इतना ही नहीं मुस्लिम इलाका होने के कारण रोजेदार भी परेशान हैं।

ज्ञात हो कि पावर कॉरपोरेशन ने यह दावा किया था कि ग्रामीण इलाके में बिजली बेहतर देने के लिए उनकी तरफ से बहुत प्रयास किया जा रहा है। इसी के तहत 48 घंटे के अंदर खराब ट्रांसफॉर्मर को बदलने की भी बात कही गई थी, लेकिन दूसरी ओर हकीकत यह है कि मछलीशहर तहसील के बंधवा बाजार में लगा ट्रांसफॉर्मर खराब हुए 15 दिन बीत चुका लेकिन इसे कब बदल जाएगा किसी के पास कोई जवाब नहीं है। वहीं इससे ग्रामीणों को खास परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बंधवा बाजार में लगे इस ट्रांसफॉर्मर से बधवा बाजार के अलावा रामगढ़, बरांवा, बोगावल गांव में भी बिजली सप्लाई होती है। इन दिनों रोजा चल रहा है। ऐसे में रोजेदारों को सहरी और इफतार अंधेरे में करना पढ़ रहा है। जबकी तरावीह की नमाज भी लालटेने की रौशनी में हो रही है। जबकि विभागीय अधिकारी अपनी मजबूरी बताकर मामला दूसरे पर टरका रहे हैं।

बरांवा निवासी असद अंसारी (36) का कहना है, " बिजली न मिलने से बहुत दिक्कत हो रही है। बिजली की समस्या से इबादत में खलल पड़ रहा है।" वहीं बंधवा बाजार निवासी प्यारेलाल (40) का कहना है, "विभागीय अधिकारियों को फोन के अलावा मिलकर भी ट्रांसफॉर्मर बदलने की गुहार लगाई है लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही है।"

यहीं के रहने वाले पप्पू हलवाई (35) का कहना है, "जब भी ट्रांसफॉर्मर खराब होता है। विभाग के लोग बदलने में करीब एक महीना लगा देते हैं।"

इस संबंध में हमने बात की एम प्रसाद, एसडीओ मछलीशहर से जिनका कहना था कि ट्रांसफॉर्मर देने की जिम्मेदारी स्टोर की है। इस संबंध में स्टोर के जिम्मेदार अधिकारियों को बता दिया गया है। जैसे ही ट्रांसफॉर्मर मिलेगा। उसे लगा दिया जाएगा।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिएयहांक्लिक करें

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top