इस डाकघर में 45 हजार ग्राहकों पर सिर्फ एक क्लर्क

इस डाकघर में 45 हजार ग्राहकों पर सिर्फ एक क्लर्कडाकघर में लचर सेवा से परेशान हैं ग्राहक।

बीघापुर, उन्नाव। नगर पंचायत बीघापुर स्थित डाकघर में एक मात्र उपडाकपाल होने की वजह से ग्राहकों को जमा निकासी के लिए चक्कर लगाना पड़ रहा है पिछले 6 महीनों से ग्राहकों के द्वारा इस समस्या की शिकायत उच्चाधिकारियों की गयी। लेकिन किसी भी अधिकारी द्वारा समस्या का उचित समाधान नहीं समझा।

डाक निरीक्षक जहां समस्या को उच्च अधिकारियों से अवगत कराने की बात कहते हैं वहीं डाक अधीक्षक समस्या का संज्ञान न होने की बात स्वीकारते हैं। नगर पंचायत डाकघर में एमआईएस, पीएलआई, आरडी व टीडी, बचत खाता व चालू खाते के लगभग 45 हजार ग्राहक हैं। प्रतिदिन 18 से 20 लाख रूपये की जमा निकासी डाकघर में होती है और डाकघर में बेहटा गढ़ाकोला, घाटमपुर कला, ओसियां, पाली, रैथाना व रुझेई गांव के डाकघर भी जुड़े हुए हैं। डाकघर में दो डाक सहायकों की पहले नियुक्ति थी किन्तु उनमें एक को उन्नाव व दूसरे को बिहार डाकघरों में 6 माह पूर्व स्थानांतरित कर दिया गया।

अब तक दोनों रिक्त पदों पर कोई तैनाती नहीं की गई। सैकड़ो की संख्या में आने वाले ग्राहक जमा निकासी व आरडी तथा एफडी आदि के भुगतान के लिए परेशान करते हैं। वर्तमान उपडाकपाल धुन्नी लाल ने स्वीकार किया कि स्टाफ की कमी होने के कारण ग्राहक परेशान होते हैं और उनसे आये दिन विवाद करते रहते हैं। डाक निरीक्षक बीके अग्निहोत्री का कहना है कि कस्बा डाकघर में अतिरिक्त कर्मचारी नियुक्त करने का अधिकार नहीं है। समस्या को उच्चाधिकारियो को अवगत करा चुके हैं। जबकि कानपुर मु0 के डाक अधीक्षक यूपी डगल का कहना है कि समस्या उनके संज्ञान में नहीं है वह स्वयं आकर समस्या को देखेगे और समाधान करेंगे।

कई दशको से चल रहा डाकघर रायबरेली मार्ग पर बैंक आफ बड़ौदा के पास दुकानो में चल रहा है जहां पर ग्राहको को आने-जाने की दिक्कते हो रही हैं।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top