रोडवेज के परिचालक परेशान, ईटीएम उपलब्ध कराने के फिर दिये निर्देश 

रोडवेज के परिचालक परेशान, ईटीएम उपलब्ध कराने के फिर दिये निर्देश फोटो साभार: गूगल।

स्वयं डेस्क

लखनऊ। राजधानी समेत प्रदेश के सभी डिपो में इलेक्ट्रॉनिक टिकटिंग मशीन (इटीएम) का टोटा है। ईटीएम की उपलब्धता न होने के कारण बस से सफर के दौरान परिचालक के सामने टिकट जारी करने में दिक्कतें आ रही हैं। परिचालकों ने कई बार अधिकारियों से नई मशीन उपलब्ध कराने की मांग की, लेकिन अभी तक परिचालकों को इटीएम उपलब्ध कराने में रोडवेज प्रशासन ने गंभीरता नहीं दिखाई है। रोडवेज अधिकारी ट्राइमैक्स कंपनी से जल्द ही नई मशीनें आने की बात कहकर पल्ला झाड़ रहे हैं।

5000 से ज्यादा इटीएम की आवश्यकता

रोडवेज के विभिन्न डिपो में वर्तमान में 5000 से भी ज्यादा इटीएम की आवश्यकता है, लेकिन पिछले कई महीने से अधिकारी इटीएम आने की बात कहकर किनारा कर रहे हैं। हाल में एक बार फिर से विभिन्न डिपो से जब इटीएम की मांग आई तो मुख्यालय के अधिकारियों ने ट्राइमैक्स कंपनी से संपर्क कर हर हाल में अगले महीने 3700 इटीएम उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। कंपनी को रोडवेज अधिकारियों की ओर से सही समय पर इटीएम उपलब्ध न कराने पर प्रति मशीन 150 रुपए जुर्माना लगाने की चेतावनी दी गई है, जिसे भुगतान में से काटा जाएगा।

कंडक्टर्स की ये हैं शिकायतें

रोडवेज बसों में मैनुअल के बजाय इलेक्ट्रॉनिक टिकटिंग मशीन से ही टिकट जारी किए जाते हैं, लेकिन टिकट जारी करने वाली इटीएम की ही हालत खस्ता हो गई है। इटीएम की बैटरी खराब हो गई हैं और टेप से चिपकाकर किसी तरह परिचालक उनसे काम ले रहे हैं। कई बार इटीएम बंद होने के बाद दोबारा चालू ही नहीं होते हैं। रोजाना ही परिचालकों की इस तरह की शिकायतें रोडवेज अधिकारियों को मिलती हैं। क्षेत्रीय अधिकारियों की ओर से मुख्यालय को पत्र लिखकर इटीएम की मांग की जाती है, लेकिन रोडवेज में इटीएम की आपूर्ति की जिम्मेदारी निभाने वाली ट्राइमैक्स कंपनी इटीएम ही उपलब्ध नहीं करा पा रही है।

एक बार फिर दिये निर्देश, 24 दिसंबर तक दिया समय

ट्राइमैक्स कंपनी के इटीएम न दे पाने से रोडवेज को हर रोज काफी घाटा भी हो रहा है। पिछले तीन महीनों से लगातार रोडवेज अधिकारियों ने इटीएम उपलब्ध कराने की ट्राइमैक्स कंपनी को चेतावनी भी जारी की, लेकिन कंपनी ने इस पर कोई ध्यान नहीं दिया। अब एक बार फिर रोडवेज की ओर से हर हाल में आगामी 24 दिसंबर तक 3700 इटीएम उपलब्ध कराने के निर्देश कंपनी को दिए गए हैं।

कंपनी को साफतौर पर 24 दिसंबर तक 3700 ईटीएम भेजने का आदेश दिया गया है। अगर इस अवधि तक ईटीएम नहीं आती हैं तो प्रति मशीन कंपनी के भुगतान से 150 रुपए काट लिए जाएंगे।
विनीत सेठ, प्रधान प्रबंधक, आईटीएमएस।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

Share it
Top