#स्वयं फेस्टिवल: संस्कृत पढ़ने वालों ने लिया टी-20 क्रिकेट का मजा

#स्वयं फेस्टिवल: संस्कृत पढ़ने वालों ने लिया टी-20 क्रिकेट का मजाराष्ट्रीय संस्कृत संस्थान गोमती नगर में टी-20 मैच जीतने के बाद विजेता टीम

सुधा पाल

लखनऊ। राष्ट्रीय संस्कृत संस्थान में जहां संस्कृत की महत्ता के साथ वेद, पुराणों और उपनिषदों का अध्ययन किया जाता है वहीं शनिवार को वहां का नज़ारा कुछ और ही रहा। संस्थान में गाँव कनेक्शन फाउंडेशन के स्वयं फेस्टिवल 2016 के जरिए लोगों को सामाजिक सरोकार से जुड़ी बातें बताई गईं। स्वयं फेस्टीवल की ओर यहां विभिन्न कार्यक्रम आयोजित करो गए। इसके तहत क्रिकेट मैच के आयोजन के साथ एलजीबीटी की समस्याओं को भी जनता के बीच उजागर किया गया। साथ में 1090 की सेवा से लोगों को परिचित कराया गया।

संस्थान में व्याकर‍ण के आचार्य भारत भूषण के साथ विजेता टीम

संस्थान की ही चयनित टीम के साथ क्रिकेट मैच का आयोजन किया गया। मैच के लिए शास्त्री और शिक्षा शास्त्री की टीम का गठन किया गया। शास्त्री टीम के धर्मेन्द्र यादव और शिक्षा शास्त्री के दीपक शर्मा को टीम का कप्तान बनाया गया। टॉस जीतते हुए शास्त्री टीम ने बल्लेबाजी करने का फैसला लिया। इस दौरान शास्त्री टीम ने 12 ओवर में 114 रन का लक्ष्य शिक्षा शास्त्री टीम के लिए रखा। जिसके बाद शिक्षा शास्त्री टीम ने निर्धारित लक्ष्य को पूरा करते हुए सीमित ओवर में 114 रन बनाए जिससे मैच टाई दो गया।

संंस्कृत संंस्थान के आचार्य भारतभूषण को इस मौके पर सम्मानित किया गया।

इसलिए दोनों टीमों के लिए सुपर ओवर (एक ओवर का मैच) रखा गया। इस दौरान शिक्षा शास्त्री की टीम ने 12 रन बनाए और दूसरी टीम ने 11 रन बनाए। इस तरह केवल एक रन के नजदीकी अंतर से शिक्षा शास्त्री ने शास्त्री टीम को हराकर मैच अपने नाम किया। इसके बाद विजयी टीम के सदस्यों को ट्रॉफी के साथ सम्मानित किया गया। संस्थान में व्याकर‍ण के आचार्य भारत भूषण को भी सम्मानित किया गया।

यहां यूपी पुलिस की वीमेन पॉवर लाइन सेवा 1090 की जानकारी भी दी गई।

स्वयं फेस्टीवल की कॉर्डीनेटर ने 1090 से कराया परिचित

पुलिस महकमे का ओर से उठाए गए प्रभावशाली कदम, 1090 की सेवा के बारे में स्वयं फेस्टीवल की कॉर्डीनेटर वृषाली जैन ने कार्यक्रम में मौजूद लोगों को विस्तृत जानकारी दी। समाज में बढ़ रही महिलाओं के खिलाफ अपराधों को 1090 के जरिए किस तरह से खत्म किया जा सकता है, इस बारे में बताया गया। इसके साथ ही इस सेवा के सही तरीके के उपयोग पर भी प्रकाश डाला गया। उन्होंने बताया कि इस सेवा के जरिए महिलाऐं अब किसी भी तरह के शोषण का शिकार नहीं बन सकतीँ और कभी भी किसी भी समय अपराधी के खिलाफ शिकायत दर्ज करा सकतीं हैं। सामाजिक संस्था ब्रेकथ्रू ने भी मुट्ठीबंद खेल के जरिए लोगों को एक दूसरे के करीब लाया। इस खेल के जरिए यह संदेश दिया कि लोगों में आपसी प्रेम और सद्भावना होनी चाहिए जिससे लोगों में समाजकल्याण की भावना आए।

एलजीबीटी कम्यूनिटी की अपील

कार्यक्रम में इस रोचक खेल के बाद इमरान ने एलजीबीटी कम्यूनिटी की समस्याओं से आम जनता को परिचित कराया। उन्होंने बताया कि समाज में किस तरह लोग उनके वर्ग के लोगों को हेयदृष्टि से देखते हैं। इसके साथ समाज में उनका कोई मान-सम्मान नहीं है। इमरान ने कहा कि उनकी कम्यूनिटी के लोग भी मुख्यधारा से जुड़ना चाहते हैं जिससे सामान्य लोगों की तरह ही उन्हें भी लोगों का साथ मिल सके।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

Share it
Top