शिवराजपुर ब्लॉक में बच्चों ने दिखाया दमखम, जीतीं कई प्रतियोगिताएं 

शिवराजपुर ब्लॉक में बच्चों ने दिखाया दमखम, जीतीं कई प्रतियोगिताएं प्रतियोगिता के दौरान बच्चों ने दिखाया अपना हुनर।

कम्यूनिटी जर्नलिस्ट: रेखा गौतम राही

प्रधानाध्यापिका, उच्च प्राथमिक विद्यालय, टकरौली कानपुर नगर

शिवराजपुर (कानपुर नगर)। हर साल की तरह इस बार फिर ब्लॉक स्तरीय क्रीड़ा प्रतियोगिता का आयोजन शिवराजपुर ब्लॉक में किया गया। इसमें कबड्डी, खो-खो, 100 व 200 मीटर की दौड़ प्रतियोगिता कराई गयी। बच्चों ने ब्लॉक स्तर पर पहला, दूसरा और तीसरा स्थान प्राप्त कर पुरस्कार अपने नाम किया।

39 प्राथमिक और 22 उच्च प्राथमिक स्कूल के बच्चों ने लिया हिस्सा

कानपुर नगर से 35 किलोमीटर दूर शिवराजपुर ब्लॉक में ब्लॉक स्तरीय क्रीड़ा प्रतियोगिता में 39 प्राथमिक और 22 उच्च प्राथमिक विद्यालयों ने प्रतिभाग किया। जिसमें प्राथमिक स्कूल के बच्चों ने 100 मीटर और उच्च प्राथमिक बच्चों ने 200 मीटर दौड़ लगायी। इस प्रतियोगिता का आयोजन शिवराजपुर के राम सहाय इन्टर कालेज बैरी के खेल मैदान पर किया गया। प्रतियोगिता का उद्घाटन प्रधानाचार्य दिनेश चन्द्र पाण्डेय ने किया।

प्रतिस्पर्धा भविष्य के लिए जरूरी

प्राथमिक विद्यालय मुश्ता से आई अध्यापिका सुधा ने कहा कि इस तरह की प्रतियोगिताओं से बच्चों में मिलजुल कर खेलने की भावना का विकास होता है। वहीं, इन प्रतियोगिताओं के जरिये कई स्कूल के बच्चे एक साथ होते हैं। उनमें प्रतिस्पर्धा होती हैं, जो उनके भविष्य के लिए जरूरी है।

दौड़ में मानसी और खुर्शीद चमके

200 मीटर बालिका दौड़ प्रतियोगिता में दुबियाना स्कूल की मानसी ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। मानसी खुश होकर बताती हैं कि हमने बहुत दिनों से दौड़ने की प्रैक्टिस की थी, आज मैं जीत कर बहुत खुश हूँ। वहीं, भैसउ स्कूल के छात्र खुर्शीद आलम ने ब्लॉक स्तर पर 200 मीटर की दौड़ में प्रथम स्थान प्राप्त किया। खुर्शीद का कहना है कि हमारे स्कूल में और न्याय पंचायत स्तर पर भी समय-समय पर खेलकूद प्रतियोगिताएं होती रहती हैं, जिससे जीतकर हम यहाँ तक पहुंचते हैं।

बच्चों का होता है मानसिक और शारीरिक विकास

उच्च प्राथमिक विद्यालय वीरामऊ की प्रधानाध्यिपिका सुनीता शुक्ला का कहना है कि ब्लॉक स्तर पर ये गतिविधियाँ होना जरूरी है। इससे बच्चों में पढ़ाई के साथ-साथ खेलकूद की तरफ भी रुझान बढ़ता है। बच्चे इस प्रतियोगिता में खेलकूद के अलावा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी करते हैं, जिससे उनका मानसिक और शारीरिक विकास होता है। कार्यक्रम में मुख्य रूप से एबीआरसी गीता झा, रेनू शुक्ला तथा एनपीआरसी से सरिता कटियार, गजेंद् यादव, राजेंद्र शर्मा, सुबोध शुक्ल, करुणेश त्रिपाठी, यदुनाथ सिंह यादव तथा अनुदेशक और अध्यापकों में सुनीता शुक्ला, रुचि गुप्ता आदि का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

यह बने विजेता

कबड्डी में पहला स्थान भैसऊ स्कूल का और दूसरा बैरी शिवराजपुर का रहा, वहीं, खो-खो में पहला स्थान दुबियाना का और दूसरा भैसऊ का रहा। इस पूरी प्रतियोगिता में खुर्शीद आलम, संदीप, पंकज, मानसी, अंजली, शिवानी, मुबारक, अन्नू, सत्यम, शबाना, नैना, प्रियंका, बलबीर, रोहित, ऋषी, गुलब्भा, विशाल, वीरू, अनीता, नीतू आदि विजेता रहे। ये बच्चे पुरस्कार पाकर बहुत खुश थे।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top