#स्वयंफ़ेस्टिवल: सोनभद्र में बीज मिलने के बाद किसान बोले अब होगी बम्पर पैदावार 

#स्वयंफ़ेस्टिवल: सोनभद्र में बीज मिलने के बाद किसान बोले अब होगी बम्पर पैदावार सोनभद्र में तीन दिसम्बर को ब्लाक घोरावल के जमगई गाँव में स्वयं फ़ेस्टिवल के तहत बीज वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

सोनभद्र। बीज नहीं मिलने से निराश किसान रमेश कुमार (64 वर्ष) को उम्मीद ही नहीं थी कि इस बार वह खेत में कुछ बो सकेंगे। समय निकलता जा रहा था पर बीज था कि वह सरकार की तरफ से न सरकारी संस्थानों व न सहकारी संस्थानों पर उपलब्ध थे। ऊपर से नोटबंदी ने तो कमर ही तोड़ दी। पर आज जैसे ही गेहूं के बीज का पैकेट उनके हाथ में आया तो उनकी खुशी छुपे नहीं छुप रही थी।

सोनभद्र में तीन दिसम्बर को ब्लाक घोरावल के जमगई गाँव में स्वयं फ़ेस्टिवल के तहत बीज वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

देश के पहले ग्रामीण अखबार गाँव कनेक्शन की चौथी वर्षगांठ पर 2-8 दिसंबर तक उत्तर प्रदेश के 25 ज़िलों में स्वयं फेस्टिवल का आयोजन किया जा रहा है। आपका शहर सोनभद्र भी इन 25 जिलों में शामिल है।

इस सत्र में दो साल के सूखे के बाद सोनभद्र में अच्छी बारिश हुई, जिसे देखकर जमगई गाँव के किसान रमेश कुमार के मन में आशा जगी कि वह अपने एक एकड़ खेत में गेहूं बो सकेंगे। और अच्छी फसल होने पर कुछ अपने खाने के लिए रख लेंगे, कुछ बेचकर पैसा कमा लेंगे।

किसान रमेश कुमार पास डेढ़ एकड़ खेत है, जिसमें आधा एकड़ में पत्थर भरा हुआ है इसके बावजूद एक एकड़ खेत ऊपजाऊ है।

किसान रमेश कुमार ने कहा कि, पैसा नहीं है, अच्छी बारिश हुई तो बीज के लिए जगह जगह गया पर बीज नहीं मिल सका। तो मैंने गेहूं बोने का इच्छा छोड़ दी।

जमगई गाँव स्वयं फ़ेस्टिवल के तहत बीज वितरण कार्यक्रम में आज रमेश कुमार को कृषि विभाग की तरफ से गेहूं की बीज का पैकेट दिया गया।

सोनभद्र के जिला कृषि अधिकारी राजीव कुमार ने इस आयोजन में किसानों को सरकार की तरफ से किसानों के हित में चलाई जा रही कई योजनाओं की जानकारी दी। इस अवसर पर राजीव कुमार ने किसानों को पम्पलेट व कई प्रचार प्रसार सम्बंधित समाग्री बंटी गई।

This article has been made possible because of financial support from Independent and Public-Spirited Media Foundation (www.ipsmf.org).

Share it
Top