समाज के लिए पावर एंजल बनेंगी ये लड़कियां

Kanchan PantKanchan Pant   1 Dec 2016 4:33 PM GMT

समाज के लिए पावर एंजल बनेंगी ये लड़कियांस्वयं फेस्टिवल के दौरान भारतीय ग्रामीण विद्यालय कुनौरा में लड़कियों को दिए जाएंगे पावर एंजल के पहचान पत्र

लखनऊ. भारतीय ग्रामीण विद्यालय कुनौरा में 11वीं और 12वीं में पढ़ने वाली सुधा, मोनिका, प्रियंका और पप्पी ने कभी नहीं सोचा था कि उन्हें पुलिस के साथ मिलकर जनता के लिए काम करने का मौका मिलेगा पर इन चारों लड़कियों के लिए गांव कनेक्शन का स्वयं फेस्टिवल हमेशा के लिए यादगार बनने जा रहा है, क्योंकि फेस्टिवल के दौरान यूपी पुलिस की तरफ़ से उन्हें पावर एंजल बनाया जाएगा, यानि वो विशेष पुलिस अधिकारी जो जनता के बीच रहकर पुलिस की मदद करें।

एक वक्त था जब लड़कियों को अपने हक़ के लिए आवाज़ उठाने के मौके कम मिलते थे, उनकी समस्याएं मुद्दा मानी ही नहीं जाती. पर अब वक्त बदल रहा है, और लड़कियां खुद अपना ये वक्त बदल रही हैं, महिलाओं से जुड़े मुद्दे उठाकर, अपने साथ हो रहे अन्याय के खिलाफ़ आवाज़ उठाकर। ऐसी ही कई जागरूक लड़कियों को स्वयं फेस्टिवल के दौरान यूपी पुलिस ‘पावर एंजल’ बनाया जाएगा।

पावर एंजल यूपी पुलिस की एक महत्वाकांशी योजना है, जिसके तहत जागरूक और समाज के लिए योगदान देने की ख्वाहिश रखने वाली लड़कियों को पावर एंजल यानी स्पेशल पुलिस ऑफिसर के पद पर नियुक्त किया जा जाता है।

क्या हैं पावर एंजल की ज़िम्मेदारियां?

- पुलिस और पीढ़ित महिलाओं के बीच एक पुल का काम करना

-महिलाओं के हक़ के लिए आवाज़ उठाना और उनकी मदद करना

-पुलिस हेल्पलाइन नंबर 1090 के बारे में स्कूल और कॉलेजों में जानकारी देना

- महिलाओं और लड़कियों को 1090 की कार्यप्रणाली के बारे में जानकारी देना और उनपर हो रहे अन्याय के ख़िलाफ़ शिकायत करने के लिए प्रेरित करना

- महिलाओं और लड़कियों के साथ दोस्ताना रिश्ते बनना, ताकि वो उनसे मदद मांगने से झिझकें नहीं

- पीड़ित महिलाओं को पुलिस हेल्पलाइन नंबर 1090 से जोड़ना और उनकी हिम्मत बढ़ाए रखना


More Stories


© 2019 All rights reserved.

Top