मुख्यमंत्री से लगाई गाँव में गोशाला बनवाने की गुहार

मुख्यमंत्री से लगाई गाँव में गोशाला बनवाने की गुहारमुख्यमंत्री जी हर न्याय पंचायत या गाँव में एक-एक गोशाला बनवाएं।

स्वयं कम्युनिटी जर्नलिस्ट

कन्नौज। ‘मुख्यमंत्री जी हर न्याय पंचायत या गाँव में एक-एक गोशाला बनवाएं। उसकी उचित देखरेख के लिए व्यवस्था कराएं। इससे किसानों को बहुत फायदा होगा और हम लोग रात में आराम से नींद ले सकेंगे। अभी तो रात-रात भर खेतों को ताकते रहते हैं, फिर भी जानवरों का झुंड आकर फसलों को नुकसान पहुंचाता है जिससे हम लोग बहुत परेशान हैं।’ यह कहना है किसान राकेश शाक्य (33 वर्ष) का।

गाँव से जुड़ी सभी बड़ी खबरों के लिए यहां क्लिक करके इंस्टॉल करें गाँव कनेक्शन एप

जिला मुख्यालय से करीब 28 किमी दूर बसे गुगरापुर ब्लॉक क्षेत्र के गाँव सद्दूपुर निवासी राकेश ही अन्ना पशुओं से परेशान नहीं हैं, बल्कि जिले के हजारों किसान इन जानवरों से खासे परेशान हैं। आए-दिन यह छुट्टा जानवर अन्नदाताओं की फसलों को नष्ट कर देते हैं। इनसे किसानों को आर्थिक नुकसान हो रहा है।

गाँव मोहनपुर निवासी शोभित शुक्ल (24 वर्ष) कहते हैं, ‘महंगी दवाई, बीज व पानी लगाकर फसल तैयार की जाती हैं, वहीं दूसरी ओर भाजपा सरकार बनते ही यूपी में अवैध बूचड़खाने बंद करवाए गए, जिससे आवारा पशु खेतों में नुकसान कर रही हैं। किसान बहुत पीड़ित हैं।’

बारामऊ सरांय गाँव निवासी किसान अनूप दुबे (55 वर्ष) का कहना है, ‘किसान महंगी फसल बचाने के लिए कटीले तार का भी प्रयोग करने लगे हैं, जिससे गाय और अन्य मवेशी घायल हो रहे हैं। इनकी देखभाल में भी लोग पीछे हैं। बाद में ऐसे पशु गंभीर बीमारी के बाद दम भी तोड़ देते हैं।’ जिले में यह समस्या केवल गुगरापुर की ही नहीं बल्कि तिर्वा, इंदरगढ़, सौरिख, तालग्राम और छिबरामऊ आदि क्षेत्र के कई गाँव मे है। रात-रात भर जागकर किसान अपनी फसलों की रखवाली करते हैं। पलक झपकते ही उनका काफी नुकसान हो जाता है। इन दिनों मक्का में अधिक नुकसान हुआ है।

ताजा अपडेट के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करने के लिए यहां, ट्विटर हैंडल को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें।

Share it
Top